जब तक ज‍िंदा हूं तब तक जीने नहीं दूंगा-वायरल हो रहा मारे गए ब‍िहार के पत्रकार का वीड‍ियो

वीडियो में बुद्धिनाथ झा बताते हैं कि 2019 में भी उन्हें गोली मारने की धमकी दी गई थी, लेकिन वो डरे नहीं। इस हत्याकांड में पुलिस ने अबतक छह लोगों को गिरफ्तार किया है।

Bihar Journalist, budhinath jha, abinash jha
मारे गए पत्रकार बुद्धिनाथ झा का वीडियो हो रहा वायरल (फोटो-@Mithileshdhar)

बिहार के मधुबनी में मारे गए पत्रकार बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश झा का एक वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिसमें वो मेडिकल माफिया को चेतावनी देते हुए कह रहे हैं कि जबतक जिंदा हैं, जीने नहीं देंगे।

आरटीआई एक्टिविस्ट और पत्रकार बुद्धिनाथ झा वीडियो में कागजों के ढेर लेकर बैठे हुए दिखाई दे रहे हैं। झा वीडियो में बोल रहे हैं- बेनीपट्टी में हम आज फर्जी हॉस्पिटल का भंडाफोड़ करने वाले हैं। बेनीपट्टी में आज हर चौक पर मौत के सौदागर घूम रहे हैं। यहां छह महीने में आठ मर्डर हुआ है। जिस अस्पताल को 2019 में बंद कर दिया गया था, उसमें सात जून को मरीज की मौत हो जाती है। अधिकारी जवाब दें जिस अस्पताल को बंद करवा दिया गया था वो चालू कैसे हो गया”।

बेनीपट्टी के कई अस्पतालों पर बुद्धिनाथ संगीन आरोप लगाते हैं और उसके संबंध में कागज भी वो दिखा रहे हैं। इस दौरान झा कई अस्पतालों के नाम भी लेते हैं। फर्जी नर्सिंग होम के बारे में भी खुलासा करते हुए वो लोगों से अपील भी करते हैं कि इन अस्पतालों से वो बचें, जो फर्जी चल रहे हैं।

बुद्धिनाथ झा के अनुसार सिर्फ बेनीपट्टी में ही दो दर्जन से ज्यादा फर्जी नर्सिंग होम हैं। इस दौरान वो नर्सिंग होम संचालकों को चेतावनी भी देते हैं कि ये बेनीपट्टी है, कभी भी उठाकर फेंक देगा।

इस वीडियो में बुद्धिनाथ झा बताते हैं कि 2019 में भी उन्हें गोली मारने की धमकी दी गई थी। लेकिन वो पहले भी लड़ते रहे हैं और जबतक जिंदा हैं, तबतक इन फर्जी नर्सिंग होम संचालकों को जीने नहीं देंगे।

बता दें कि बुद्धिनाथ झा का जला हुआ शव शुक्रवार की रात को बरामद किया गया था। उनका शव बेनीपट्टी गांव से पांच किलोमीटर दूर मिला था। 9 नवंबर की रात जब वह घर से निकले, उसके बाद उनका कुछ पता नहीं चला। बाद में उनकी लाश मिली। घरवालों को शक है कि उनकी हत्या मेडिकल माफिया ने की है। जबकि पुलिस ने इस हत्या के लिए लव ट्रायंगल को जिम्मेदार बताया है। इस मामले में पुलिस ने छह लोगों को गिरफ्तार किया है।

पढें जुर्म समाचार (Crimehindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट