ताज़ा खबर
 

अनंत सिंह: नीतीश कुमार को चांदी से तौल दिया, रेप, हत्या समेत कई मामलों के आरोपी अब तेजस्वी के साथ

साल 2004 के लोकसभा चुनाव में अनंत सिंह ने नीतीश कुमार का साथ दिया था। बाढ़ में एक रैली के दौरान अनंत सिंह ने नीतीश कुमार को चांदी के सिक्कों से तौलवाया था।

bihar, bihar newsकहा जाता है कि अनंत सिंह पहली बार 9 साल की उम्र में जेल गए थे।

रौबदार मूंछ, कड़क अंदाज और भाषा में ठेठ बिहारीपन। कोई उन्हें छोटे सरकार कहता है तो कोई दबंग तो कोई बाहुबली। हाथी-घोड़े औऱ अजगर रखने का शौक पालने वाले अनंत सिंह इस बार राष्ट्रीय जनता दल के लिए वोट मांग रहे हैं और मोकामा से चुनावी मैदान में हैं। एक समय था जब लालू प्रसाद यादव अनंत सिंह के काले कारनामों से तंग आ गए थे और चाहते थे कि किसी तरह उनपर लगाम लगे और अब अनंत, लालू के बेटे के साथ हैं। कहते हैं राजनीति में कुछ भी स्थाई नहीं होता। अपराध की स्याह दुनिया से निकलकर सफेदपोश बने अनंत सिंह कभी नीतीश कुमार के दुलारे भी हुआ करते थे। कहा जाता है कि नीतीश राज़ में अनंत सिंह का सिक्का इस कदर चलता था कि बिहार में उनके नाम से ही लोगों के नस-नस में सिहरन पैदा हो जाती थी।

9 साल की उम्र में गए जेल: बिहार की राजधानी पटना से कुछ 70 किलोमीटर दूर पड़ता है बाढ़। इसी बाढ़ में एक गांव है नदमां। इस गांव में 1 जुलाई 1961 को अनंत सिंह का जन्म हुआ। लोग कहते हैं कि जब अनंत सिंह 9 साल के थे, तब पहली बार जेल गए थे। कुछ दिनों में छूटकर भी आ गए थे। अनंत सिंह थे तो चार भाइयों में सबसे छोटे, लेकिन जुर्म की दुनिया में उनका नाम काफी बड़ा है।

अपराध की लंबी फेहरिस्त: अनंत सिंह को बाहुबली यूं ही नहीं कहा जाता। उनके ऊपर एक-दो नहीं, बल्कि कई मामले दर्ज हैं। इनमें हत्या, डबल मर्डर की साजिश, आर्म्स एक्ट, रंगदारी, जमीन पर अवैध कब्जा जैसे मामले हैं। अनंत सिंह के ऊपर पटना की एमपी-एमएलए कोर्ट में 18 केस चल रहे हैं। बाढ़ कोर्ट में दो केस हैं। पटना के रेलवे ज्यूडिशियल कोर्ट में ट्रेन में मर्डर का मामला है। गया में पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के रिश्तेदार ने मामला दर्ज कराया था। दानापुर कोर्ट में भी एक मामला चल रहा है।

कहा जाता है कि कुछ क्रिमिनल केस ऐसे भी हैं, जिनका या तो डिस्पोजल हो गया या फिर उनका रिकॉर्ड ही नहीं मिला। पिछले साल अक्टूबर में अनंत सिंह के घर से एके-47 समेत कई हथियार मिले थे। सिर्फ इस मामले को छोड़कर बाकी सभी मामलों में अनंत सिंह को जमानत मिल चुकी है। कहा जाता है कि एक बार अनंत सिंह को एक मर्सिडीज पसंद आ गई। तो उन्होंने उस आदमी पर दबाव बनाकर पहले तो मर्सिडीज ली और फिर मनमाने तरीके से उसका इस्तेमाल किया।

रेप मामले में भी उछला नाम: इसी तरह 2007 में एक महिला से रेप और हत्या के मामले में अनंत सिंह का नाम आया। इसको लेकर एक रिपोर्टर ने उनसे सवाल किया। सवाल से वो इतना भड़के कि रिपोर्टर की जमकर पिटाई कर दी। कभी उनका एके-47 लहराते हुए वीडियो वायरल हुआ, तो कभी पटना में सपंत्ति को लेकर विवादों में रहे।

नीतीश के मंत्री से हुई भिड़ंत: यहीं नहीं नीतीश सरकार में मंत्री रहीं प्रवीण अम्मानुलाह से भी पाटलिपुत्र में अतिक्रमण को लेकर भिड़ंत हो गई थी। लेकिन अनंत सिंह कभी झुके नहीं। उसके बाद नीतीश कुमार अनंत सिंह से किनारा करने लगे। अनंत सिंह 2015 में ही जेडीयू से अलग हो गए थे। लेकिन 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान उन्होंने फिर से नीतीश कुमार के करीबी ललन सिंह से पंगा ले लिया। अनंत सिंह ने ललन सिंह के खिलाफ मोकामा से चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया। ललन सिंह कभी अनंत सिंह के राजनीतिक गुरु थे।

नीतीश को चांदी के सिक्कों में तौलवाया: साल 2004 के लोकसभा चुनाव में अनंत सिंह ने नीतीश कुमार का साथ दिया था। बाढ़ में एक रैली के दौरान अनंत सिंह ने नीतीश कुमार को चांदी के सिक्कों से तौल दिया था। इसका एक वीडियो सामने आने के बाद नीतीश कुमार की काफी किरकिरी भी हुई थी। इसी समय से अनंत सिंह और नीतीश कुमार की दोस्ती गहरी हो गई। कहा जाता है कि नीतीश राज में अनंत सिंह की संपत्ति खूब बढ़ी।

ऐसे आए राजनीति में: 2005 के विधानसभा चुनाव से अनंत सिंह राजनीति में आए। अनंत सिंह मोकामा से लगातार चार बार जीत चुके हैं। फरवरी 2005, अक्टूबर 2005 और 2010 का चुनाव जदयू से जीते और 2015 में निर्दलीय जीते। 2005 के चुनावों के बाद दिसंबर 2008 में अनंत सिंह के बड़े भाई फाजो सिंह की चार लोगों ने पटना के महादेव शॉपिंग कॉम्प्लेक्स के बाहर सरेआम गोली मारकर हत्या कर दी। इस हमले में उनके ड्राइवर अवधेश सिंह की भी मौत हो गई। अनंत सिंह चार भाइयों में सबसे छोटे हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 झारखंड: थाने में आरोपी चोर के गुप्तांग पर दिया इलेक्ट्रिक शॉक, पुलिस पर आरोप- जबरन जुर्म कबूल कराने की हुई कोशिश
2 Bihar Election 2020: रविशंकर प्रसाद को मार दी थी गोली, सासाराम में BJP की वो रैली खून से हो गई थी लाल
3 बिंदी यादव: लालू-नीतीश के करीबी पर राष्ट्रदोह का आरोप, बेटा हत्या और पत्नी शराब रखने के आरोप में गई जेल; माफिया की पत्नी JDU की प्रत्याशी
यह पढ़ा क्या?
X