ताज़ा खबर
 

Bihar Election 2020: बार बालाओं संग ठुमके लगाते वीडियो हुआ था वायरल, JDU के प्रत्याशी इलाके में रंगीन मिजाजी के लिए है मशहूर; नीतीश ने फिर दिया टिकट

बिहार में शराबबंदी से पहले भी उनका एक विडियो आया था, जिसको लेकर कहा जाता है कि वो इस वीडियो में कथित तौर से नशे में थे।

crime, crime newsइलाके में श्याम बहादुर सिंह की छवि रंगीन मिजाज विधायक की है।

बिहार के विधानसभा चुनाव में हर बार कई बाहुबली या दबंग अपनी किस्मत आजमाते हैं। इस बार भी सभी राजनीतिक दलों ने अपने विधानसभा में दबंग शख्सियतों को टिकट थमाया है। इस कड़ी में आज बात करेंगे सिवान की बड़हरिया विधानसभा सीट से जनता दल यूनाइटेड के विधायक श्याम बहादुर सिंह की। विधायक श्याम बहादुर सिंह के शौक उनको बार-बार चर्चा में रखते हैं। वे अपनी रंगीनमिजाजी के लिए भी जाने जाते हैं। वे कभी बार बालाओं के साथ ठुमके लगाते हैं तो कभी सिर पर बाज बैठाकर चलते हैं। वे हाथी पर चढ़कर विधानसभा भी जा चुके हैं। विधायक के ऐसे कई फोटों सोशल मीडिया में वायरल हुए हैं, जिनके कारण वे जेडीयू के लिए भी परेशानी का सबब बनते रहे हैं।

श्याम बहादुर सिंह एक बार हाथी पर चढ़कर विधानसभा पहुंचे थे। जिसके बाद सीवान से दिल्ली तक उन्होंने सुर्खियां बटोरी थीं। इससे पहले सीवान से लोकसभा सांसद कविता सिंह के चुनाव प्रचार में उनके डांस का वीडियो भी वायरल हो चुका है। बड़हरिया विधानसभा से दो बार विधानसभा चुनाव जीतने वाले श्याम बहादुर सिंह एक बार जीरादेई से भी विधायक रह चुके हैं। श्याम बहादुर सिंह पर चोरी, हत्या की कोशिश, जबरन संपत्ति हड़पने समेत कई अन्य केस भी दर्ज हैं लेकिन किसी भी मामले में उनपर आरोप तय नहीं हुए हैं।

हाल ही में विधायक ने अपने लेटर पेड पर पांच लोगों को आरोपित किया था और थाने में शिकायत दी थी। दरअसल बड़हरिया विधायक श्याम बहादुर सिंह ने अपने लेटर पेड पर जीबी नगर थाने में लिखित आवेदन दिया था जिसमें रवि साह, अभय राय पर आरोप लगाते हुए कहा गया था कि मेरे सहयोगी दीपक कुमार के फोन नंबर कॉल कर मुझे गालियां और जान से मारने की धमकी दी गई साथ ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी अपशब्द बोले गए थे।

श्याम बहादुर सिंह उस वक्त भी चर्चा में आए थे जब उन्होंने शराबबंदी के विरोध में बयानबाजी की थी। दरअसल जीतन राम मांझी ने शराबबंदी का विरोध किया था और श्याम बहादुर सिंह ने जीतन राम मांझी की बातों का समर्थन करते हुए कहा था कि ‘जीतन राम मांझी ने जो कहा वह गलत नहीं है। मैं उनसे असहमत नहीं हूं। शराब को व्यवस्था और संस्कृति के हिसाब से पीनी चाहिए।’

बिहार में शराबबंदी से पहले भी उनका एक वीडियो आया था, जिसको लेकर कहा जाता है कि वो इस वीडियो में कथित तौर से नशे में थे। तीसरी बार विधायक बने श्याम इस वीडियो में कहीं-कहीं अश्लील इशारे भी करते नजर आए थे। विधायक की छवि को लेकर इलाके के लोगों का मानना है कि उनका अंदाज बेहद देसी है और वो नाच-गाने के काफी शौकीन भी हैं।

बड़हरिया विधानसभा क्षेत्र से 63 साल के जेडीयू विधायक श्याम बहादुर सिंह इस बार भी चुनावी मैदान में हैं। उनका सामना राजद के बच्चा पांडेय से है। श्याम बहादुर सिंह नंगे पैर ही चुनाव प्रचार अभियान में जुटे हैं। एक टीवी चैनल से बात करते हुए श्याम बहादुर ने कहा था कि एक तांत्रिक ने उनसे कहा है कि अगर वो नंगे पांव चुनाव प्रचार करेंगे तो जरुर जीतेंगे, इसलिए चप्पल नहीं पहनी है। जब श्याम बहादुर से पूछा गया था कि आपकी उम्र 63 साल है और भीड़ लेकर चुनाव प्रचार में निकले हैं, कोरोना से डर नहीं लगता। तो श्याम बहादुर ने कहा था कि ‘मैं खुद कोरोना हूं। कैसा डर।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 मध्य प्रदेश: बच्चे को किडनैप कर पैसे लिए फिर मासूम को मार डाला, पुलिस कस्टडी में 1 आरोपी की मौत; विपक्ष का शिवराज सरकार पर निशाना
2 यूपी: निर्दलीय विधायक विजय मिश्रा औऱ उनके बेटे पर रेप का केस दर्ज, पीड़िता ने कहा – 6 साल तक किया यौन शोषण
3 दिल्ली: कमरे में मिली लड़की की लाश, पुलिस ने कहा- सुसाइड; परिजन बोले- साजिश है, FIR दर्ज नहीं कर रही थी पुलिस, जल्दबाजी में कराया अंतिम संस्कार
ये पढ़ा क्या?
X