ताज़ा खबर
 

शादी में दूल्हे ने जूते के लिए कर दिया मर्डर, लड़के ने कबूतर के लिए ली बच्चे की जान

शादी करने आए दूल्हे ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर एक 42 साल के शख्स की पीट-पीट कर हत्या कर दी। दरअसल, दूल्हे और उसके दोस्तों को शक था कि 42 वर्षीय रामसरन ने उसका जूता चुराया है।
पुलिस ने दूल्हे और उसके दोस्तों पर हत्या का केस दर्ज कर लिया है।

आए दिन छोटी-छोटी बातों पर लोग एक-दूसरे का मर्डर करने पर उतारू हो जाते हैं। उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले से एक ऐसा ही मामला सामने आया है। जिले के सूरजपुर गांव शादी करने आए दूल्हे ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर एक 42 साल के शख्स की पीट-पीट कर हत्या कर दी। दरअसल, दूल्हे और उसके दोस्तों को शक था कि 42 वर्षीय (रामसरन) ने उसका जूता चुराया है। पुलिस ने दूल्हे और उसके दोस्तों पर हत्या का केस दर्ज कर लिया है। पुलिस ने बताया, ”शादी के दौरान कई तरह के पारंपरिक रस्मों को निभाया जाता है, इन्हें निभाने के दौरान दूल्हे ने अपने जूते उतारकर बाहर रख दिया। जब सभी रीति-रिवाज खत्म हो गए तो दूल्हा का जूता अपनी जगह से गायब था। इसके बाद जूते के पास खड़े रामसरन पर चोरी का आरोप लगाते हुए दूल्हे और उसके दोस्तों ने पीटना शुरू कर दिया। जब तक लोग उसे बचाने आते वह गंभीर रूप से घायल हो चुका था और अस्पताल में जाकर उसने अपना दम तोड़ दिया। रामसरन की पत्नी मीरा देवी ने दुल्हे सुरेंद्र और उसके चार दोस्तों पर पति की हत्या का मामला दर्ज कराया है”।

जूते के पास खड़े रामसरन पर चोरी का आरोप लगाते हुए दूल्हे और उसके दोस्तों ने पीटना शुरू कर दिया।

वहीं कबूतर की वजह से बेंगलुरु में एक 14 साल के लड़के ने दो साल के बच्चे की हत्या कर दी। दरअसल, 14 साल का यह लड़का अपने छत पर कबूतर पालता था, एक दिन अचानक इसका एक कबूतर गायब हो गया। कुछ दिनों बाद लड़के की नजर अपने कबूतर पर गई तो वह उसे पकड़ने के लिए बाहर आया, लेकिन दो साल के बच्चे के बीच में आने की वजह से वह कबूतर पकड़ने में नाकाम रहा। कबूतर नहीं पकड़ने से खफा होकर उसने उस बच्चे की हत्या कर दी।

पुलिस के मुताबिक यह मामला सिर्फ कबूतर का ही नहीं हो सकता क्योंकि कुछ दिन पहले इन दोनों परिवार के बीच लड़ाई हुई थी। पुलिस इस मामले को अच्छी तरह से छानबीन करने में जुटी हुई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.