ताज़ा खबर
 

बिजनेसमैन ने कॉट्रैक्ट किलर्स को लाखों रुपए देकर कराई बेटे की हत्या, खुद ही दर्ज कराई गुमशुदगी की रिपोर्ट; यूं खुला राज़

आरोपियों ने पुलिस को बताया कि घटना वाले वे दिन वे उसको झील पर ले गए और बेहोश करने वाली दवा के साथ शराब पिलाई। फिर कार में बिठाकर उसके हाथ और पैर काट दिए और शरीर के अंगों को बैग में भरकर झील में फेंक दिया।

crime, crime news, murderपुलिस ने इस मामले में हत्या की धारा के तहत केस दर्ज किया था। सांकेतिक तस्वीर।

कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में एक सनसनीखेज घटना में बिजनेसमैन ने कॉट्रैक्ट किलर्स से लाखों रुपए का सौदा कर अपने ही बेटे की हत्या करवा दी। बाद में वह थाने में बेटे की गुमशुदगी की रिपोर्ट भी दर्ज कराई। पुलिस की जांच-पड़ताल में इसका राज तब खुला जब सीसीटीवी कैमरे में घटना में प्रयोग की गई कार दिखी। वारदात के पीछे बताया जा रहा कि बेटे ने संपत्ति में हिस्सेदारी के लिए माता-पिता को कथित रूप से प्रताड़ित किया था।

बेंगलुरु के अवनाहल्ली पुलिस ने 17 वें क्रास के मल्लेश्वरम निवासी बीवी केशव (50) को बड़े बेटे की हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के अनुसार 12 जनवरी को पिता ने एक गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई, जिसमें दावा किया गया कि उनके बड़े बेटे कौशल प्रसाद 10 जनवरी से घर नहीं लौटे हैं।

पिता ने अपनी शिकायत में यह भी कहा था कि कौशल का मोबाइल फोन छोटे बेटे को दिया गया था। जब पुलिस ने कौशल की तलाश शुरू की, तो अवनाहल्ली के निवासियों ने एफ़लहेल्पा झील में फेंकी गई थैलियों से निकलने वाली दुर्गंध की स्थानीय पुलिस को सूचना दी।

पुलिस को तब झटका लगा जब उन्होंने बंदूक की नोक खोली और एक मानव शरीर के कुछ हिस्सों को देखा। बाद में शव की पहचान कौशल के रूप में हुई, जो लापता था। पोस्टमार्टम के बाद शव उनके परिवार को सौंप दिया गया।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक पड़ताल के दौरान निगरानी कैमरों ने पीड़ित को मल्लेश्वरम 18 वीं क्रॉस के पास सफेद मारुति ज़ेन कार में सवार दिखाया। पुलिस को यह भी पता चला कि कार हाल ही में नवीन कुमार और एक अन्य व्यक्ति के नाम से खरीदी गई थी।

सर्विलांस कैमरों की मदद से पुलिस ने एलिमला झील की दिशा में चलती कार को ट्रैक किया। पुलिस ने नवीन कुमार से पूछताछ की, जिसने अपराध कबूल किया। उसने पुलिस को बताया कि पीड़िता के पिता ने उन्हें 3 लाख रुपये में काम पर रखा था और 1 लाख रुपये का अग्रिम भुगतान कर चुके थे। वह आरोपी पिता को तब से जानता था, जब वह उसके छोटे बेटे के साथ पढ़ता था।

आरोपियों ने पुलिस को बताया कि घटना वाले वे दिन वे कौशल को झील पर ले गए और उसे बेहोश करने वाली दवा के साथ जबरन शराब पिलाई। फिर उन्होंने उसे कार में बिठाया, उसके हाथ और पैर काट दिए और शरीर के अंगों को बैग में भरकर झील में फेंक दिया।

Next Stories
1 Google का एचआर मैनेजर बता कई लड़कियों का किया यौन शोषण, पैसे भी ऐंठे; अपनी तनख्वाह 40 लाख बताने वाला धराया
2 ‘Slient knife Attacker’ की तलाश में कई दिनों से खाक छान रही पुलिस, पकड़ने के लिए नंबर जारी कर लोगों से मांगी मदद
3 ‘अदालत से बच गया, मुझसे कैसे बचेगा’, इतना बोल अपराधियों ने युवक को मारी ताबड़तोड़ गोलियां
यह पढ़ा क्या?
X