ताज़ा खबर
 

पश्चिम बंगाल में नड्डा के काफिले पर हमला, बोले- बुलेट प्रूफ गाड़ी में था तो बच गया, गवर्नर ने कहा, पुलिस भी उपद्रवियों के साथ

इस बवाल के बाद कैलाश विजयवर्गीय ने बताया कि 'इस हमले में मैं घायल हो गया हूं। पार्टी अध्यक्ष की कार पर भी हमला हुआ है। हम इसकी कड़ाई से निंदा करते हैं। पुलिस की मौजूदगी में बदमाशों ने हमपर हमला किया..ऐसा लग रहा था जैसे कि हम अपने देश में नहीं हैं।'

west bengal, jp naddaइस हमले में गाड़ी के शीशे टूट गए।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर पथराव किया गया। जेपी नड्डा गुरुवार को पश्चिम बंगाल पहुंचे हुए थे। वो यहां पार्टी कार्यकर्ताओं से मिलने के लिए डायमंड हार्बर जा रहे थे और तब ही रास्ते में उनके काफिले पर हमला हो गया। जेपी नड्डा के काफिले में शामिल गाड़ियों पर रोड़े फेंके गए। राज्य बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष ने यह आरोप लगाया है। काफिले पर हमले के बाद जेपी नड्डा ने कहा, “आज मैं यहां आया हूं,रास्ते में मुझे जो दृश्य देखने को मिला, वो इस बात को बताता है कि ममता जी के राज में बंगाल अराजकता और असहिष्णुता का पर्यायवाची बन चुका है आज मैं यहां पहुंचा हूं तो मां दुर्गा के आशीर्वाद से पहुंचा हूं।

इधर भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय के काफिले पर भी हमला किया गया है। कैलाश विजयवर्गीय ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से एक वीडियो भी शेयर किया है। इस वीडियो को शेयर करते हुए भाजपा नेता ने लिखा है कि ‘बंगाल पुलिस को पहले ही राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री @JPNadda जी के कार्यक्रम की जानकारी दी गई थी, लेकिन एक बार फिर बंगाल पुलिस नाकाम रही। सिराकोल बस स्टैंड के पास पुलिस के सामने ही #TMC गुंडों ने हमारे कार्यकर्ताओं को मारा और मेरी गाड़ी पर पथराव किया।’

बताया जा रहा है कि जब जेपी नड्डा और कैलाश विजयवर्गीय का काफिला डायमंड हार्बर की तरफ जा रहा था तब रास्ते में कुछ प्रदर्शनकारी जमा हो गए थे। इन लोगों ने जेपी नड्डा के काफिले को रोकने के लिए सड़क जाम कर दिया और अचानक उनकी कार पर पत्थर फेंके जाने लगे। जो वीडियो कैलाश विजयवर्गीय ने शेयर किया है उसमें नजर आ रहा है कि सड़क के दोनों तरफ लोग हंगामा कर रहे हैं। कुछ पुलिसकर्मी इन लोगों को शांत कराने में जुटे हैं लेकिन अचानक काफिले की गाड़ी पर पत्थरों से हमला किया जाता है। इस हमले में कार के शीशे टूट गये थे। काफी देर तक यह हल्ला-हंगामा होता रहा। किसी तरह पुलिस ने काफिले में शामिल गाड़ियों को वहां से निकाला।

इधर बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने इस पत्थरबाजी का आरोप तृणमूल कार्यकर्ताओं पर लगाया है। उनका कहना है कि टीएमसी के समर्थकों ने सड़क जाम किया और जेपी नड्डा तथा उनके काफिले में शामिल कारों पर पत्थरबाजी की है।

इस बवाल के बाद कैलाश विजयवर्गीय ने बताया कि ‘इस हमले में मैं घायल हो गया हूं। पार्टी अध्यक्ष की कार पर भी हमला हुआ है। हम इसकी कड़ाई से निंदा करते हैं। पुलिस की मौजूदगी में बदमाशों ने हमपर हमला किया..ऐसा लग रहा था जैसे कि हम अपने देश में नहीं हैं।’

इधर इस हमले के बाद टीएमसी के नेता मदन मित्र ने टीएमसी कार्यकर्ताओं के हमले में हाथ होने की बात से इनकार किया है। टीएमसी नेता ने कहा कि ‘इस हिंसा में उनके अपने गुंडे शामिल थे।’

राज्य के गवर्नर जगदीप धनखड़ ने इस हिंसा पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि राज्य में कानून-व्यवस्था खत्म हो गई है। राज्यपाल ने कहा कि ‘अराजकता की भयावह रिपोर्टों पर चिंतित हूं। भाजपा अध्यक्ष के काफिले पर हमला किया गया। पुलिस ने इसमें समर्थन दिया है। यह सीएस और डीजीपी को मेरे अलर्ट के बावजूद हुआ है। यह कानून के पतन का संकेत है।’

 

Next Stories
1 थाने में घुसकर पुलिसवालों को मारा चाकू, तेजस्वी बोले- बधाई हो महाराज! बिहार में लौट आया महाजंगलराज
2 यूपी: छेड़खानी का विरोध करने पर नाबालिग को छत से फेंका, हालत गंभीर
3 मध्य प्रदेश: दलित ने पार्टी में छू दिया खाना, दंबगों ने पीट-पीट कर मार डाला
यह पढ़ा क्या?
X