ताज़ा खबर
 

UP में दिखा CAB का असर, बिल के खिलाफ मदरसा छात्रों ने किया प्रदर्शन; हाईवे जाम- पुलिस वाहनों में तोड़फोड़

Citizenship Amendment Bill 2019, CAB Protest: सहारनपुर जिले के सरसटा बाजार स्थित जामा मस्जिद पर एकत्र होकर करीब साढ़े चार बजे शांतिमार्च निकाला। यह शांतिमार्च खानकाह पुलिस चौकी से होते हुए सहारनपुर - मुजफ्फरनगर हाइवे पर पहुंच गया। जहां छात्रों ने जाम लगा दिया।

Author लखनऊ | Published on: December 12, 2019 1:07 PM
नागरिकता संशोधन बिल का विरोध करते मदरसों के छात्र, फोटो सोर्स- ट्वीटर

Citizenship Amendment Bill 2019, CAB Protest:  नागरिकता संशोधन विधेयक (कैब) को संसद द्वारा मंजूरी प्रदान किए जाने के बीच इसे लेकर असम हो रहे विरोध प्रदर्शन असर अब उत्तर प्रदेश के पश्चिमी जिलों में भी देखने को मिल रहे है। सहारनपुर के देवबंद में इस बिल के विरोध में मदरसा के कुछ छात्रों ने सहारनपुर- मुजफ्फरनगर हाईवे पर जाम लगा दिया और कथित तौर पर पुलिस बल पर पथराव और वाहनों में तोड़फोड़ की। इसकी सूचना मिलने के बाद सभी बड़े अधिकारी मौके पर पहुंचे और बड़ी मुश्किल से हालात को काबू किया।

बिल की कॉपी जलाकर किया विरोध: दरअसल, बुधवार (11 दिसंबर) शाम को मदरसा छात्र सहारनपुर जिले के सरसटा बाजार स्थित जामा मस्जिद पर एकत्र होकर करीब साढ़े चार बजे शांतिमार्च निकाला। यह शांतिमार्च खानकाह पुलिस चौकी से होते हुए सहारनपुर- मुजफ्फरनगर हाईवे पर पहुंच गया। जहां छात्रों ने जाम लगा दिया और बिल की कॉपी को जला कर विरोध जताया। आरोप है कि वाहनों को रोकने के लिए हाइवे पर पत्थरबाजी भी की गई।

Hindi News Today, 12 December 2019 LIVE Updates: देश-दुनियां की तमाम बड़ी खबरें पढ़नें के लिए यहां क्लिक करें-

शाम 7 बजे खोला गया हाइवे: इस घटना की सूचना मिलने पर एसएसपी दिनेश कुमार, एसडीएम राकेश कुमार, सीओ चौब सिंह, इंस्पेक्टर यज्ञदत्त शर्मा समेत कई थानों का फोर्स व पीएससी मौके पर पहुंची। उन्होंने छात्रों को समझाने का प्रयास किया। लेकिन वह मानने को तैयार नहीं थे। इसके बाद अधिकारियों ने देर शाम पूर्व विधायक माविया अली और मदरसों के मौलान के साथ मौके पर पहुंच छात्रों को समझाया जिसके बाद शाम 7 बजे के करीब हाईवे को खोल दिया गया।

10 जिलों में इंटरनेट बंद: बता दें कि लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल के पास होने के बाद से ही देश के उत्तरी हिस्सों में इसके खिलाफ प्रदर्शन जारी है। असम में कुछ छात्र संगठनों ने इस बिल को विरोध करते हुए मंगलवार (10 दिसंबर) को गुवाहाटी और डिब्रुगढ़ में बंद का ऐलान किया था। इसके बाद इस बिल के खिलाफ असम में प्रदर्शन जारी है। असम प्रशासन ने प्रदर्शन को देखते हुए 10 जिलों में इंटरनेट को बंद कर दिया गया है।

80 के मुकाबले 311 मतों से पास हुआ बिल: गौरतलब है कि नागरिकता संशोधन बिल पाकिस्‍तान, बांग्‍लादेश और अफगानिस्‍तान के गैर-मुस्लिम शरणार्थियों को भारतीय नागरिकता प्राप्‍त करने की छूट देता है। लोकसभा में सोमवार (9 दिसंबर) को विधेयक 80 के मुकाबले 311 मतों से पास हुआ जबकि बुधवार (11 दिसंबर ) को राज्यसभा में बिल के पक्ष में 125 वोट पड़ने से पास हो गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 मिड-डे मील के दौरान दलित बच्चों को अलग बैठाया? मचा बवाल तो स्कूल कर्मचारियों के खिलाफ दर्ज हुआ मुकदमा
2 MCD के अधिकारी को अगवा कर मांगे थे 2 लाख रुपए! Delhi Police के ASI समेत 2 सिपाही सस्पेंड
3 पुलिसवालों ने कार रुकवाकर ली तलाशी, नहीं मिला कुछ तो खुद ही रख दी शराब; 7 लाख वसूलने वाले 2 दारोगा समेत कई पुलिसकर्मियों पर FIR दर्ज
ये पढ़ा क्‍या!
X