ताज़ा खबर
 

उत्तर प्रदेशः इंस्पेक्टर रेप आरोपी से ले रहा था घूस, एंटी करप्शन टीम ने रंगे हाथ किया गिरफ्तार

आरोपी सोनू शर्मा ने रामवीर यादव को कल्याणपुर थाना क्षेत्र स्थित पनकी रोड पर 10 हजार रुपए देने के लिए बुलाया था। वहां पर पहले से एंटी करप्शन की टीम मौजूद थी। टीम ने घूस लेते हुए इंस्पेक्टर को रंगे हाथों दबोच लिया।

Author कानपुर | Published on: August 23, 2019 8:43 AM
एंटी करप्शन टीम ने इंस्पेक्टर को रेप के आरोपी से घूस लेते हुए दबोचा फोटो ,सोर्स- स्थानीय

कानपुर में एंटी करप्शन की टीम ने एक इंस्पेक्टर को रेप के आरोपी से घूस लेते हुए गिरफ्तार किया है। इंस्पेक्टर कानपुर देहात में क्राइम ब्रांच के पद पर तैनात है। एंटी करप्शन की टीम ने कल्याणपुर थाने में इंस्पेक्टर के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। क्राइम ब्रांच इंस्पेक्टर रामवीर सिंह यादव कानपुर के विभिन्न थानों में इंस्पेक्टर रह चुका है। कानपुर देहात के एसपी अनुराग वत्स ने कार्रवाई करते हुए इंस्पेक्टर को निलंबित कर दिया है।

रंगे हाथों पकड़ा गया इंस्पेक्टरःरामवीर सिंह यादव कानपुर देहात में क्राइम ब्रांच में इंस्पेक्टर के पद पर तैनात थे। रामवीर यादव रेप की घटना की जांच कर रहे थे। इंस्पेक्टर आरोपी के मामले को रफादफा करने के लिए 20 हजार रुपए देने का दबाव बना रहे थे। आरोपी सोनू शर्मा ने रामवीर यादव को कल्याणपुर थाना क्षेत्र स्थित पनकी रोड पर 10 हजार रुपए देने के लिए बुलाया था। वहां पर पहले से एंटी करप्शन की टीम मौजूद थी। टीम ने घूस लेते हुए इंस्पेक्टर को रंगे हाथो दबोच लिया।

नशीला पदार्थ खिलाकर लगाया रेप करने का आरोपःदरअसल कन्नौज की रहने वाली एक युवती ने कल्यानपुर के सोनू शर्मा से लव मैरिज की थी। शादी के कुछ दिनों बाद दोनों एक दूसरे से अलग हो गए थे। युवती ने सोनू शर्मा पर नशीला पदार्थ खिलाकर रेप का आरोप लगाकर महिला थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी । इस मामले में पुलिस फरवरी माह 2019 में फाइनल रिपोर्ट लगा चुकी थी।

आरोपी ने एंटी करप्शन टीम को दी सूचनाः पीड़िता ने आईजी से मिलकर दोबारा जांच की मांग की थी। आईजी ने इसकी जांच कानपुर देहात के क्राइम ब्रांच इंस्पेक्टर रामवीर सिंह यादव को सौंपी थी। इंस्पेक्टर सोनू शर्मा के पक्ष में रिपोर्ट लगाने के बदले में 20 हजार रुपए की मांग कर रहा था। आरोपी ने इसकी सूचना एंटी करप्शन की टीम को दी थी।

रिपोर्ट बदलने के लिए मांगे थे रुपए: एंटी करप्शन कानपुर यूनिट के इंस्पेक्टर शंभूनाथ तिवारी के विवेचक रामवीर सिंह यादव रेप आरोपी के पक्ष में फाइनल रिपोर्ट लगाने के बदले रुपयों की मांग कर रहा था। आरोपी लगातार जांचकर्ता द्धारा ब्लैकमेल किया जा रहा था । इस दौरान उसके फोन को रिकॉर्ड किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 राजस्थानः पुलिस को देख चोर ने निगली सोने की चेन, जमकर खिलाए केले और पपीता, फिर हुई बरामद
2 उत्तर प्रदेश: गुंडे से शादी करने को राजी नहीं हुई लड़की, घर में घुस कैरोसिन छिड़ककर जिंदा जला डाला
3 पति और बच्चों को बेहोश कर प्रेमी के साथ फरार हुई महिला