ताज़ा खबर
 

माओवादियों से कनेक्शन का शक, आदिवासी एक्टिविस्ट समेत 67 पर UAPA के तहत केस

पुलिस ने जिन लोगों पर यूएपीए लगाया है उसमें सुगुना और उसके पति भुजंगा राव भी शामिल हैं। भुजंगा राव के बारे में बताया जा रहा है कि वो भी पित्ताभोंगराम में आदिवासी कल्याण रेडिसेन्सियल स्कूल के शिक्षक हैं।

telangana, andhra pradeshपुलिस ने इस मामले में 67 लोगों को खिलाफ केस दर्ज किया है। सांकेतिक तस्वीर।

आंध्र प्रदेश में पुलिस ने माओवादियों से संबंध रखने के शक में आदिवासी एक्टिविस्ट समेत 67 लोगों पर UAPA के तहत केस दर्ज किया है। इस मामले में गिरफ्तार की गईं अथराम सुगुना के बारे में बताया जा रहा है कि वो तेलंगाना के अदिलाबाद जिले के फकरीगुट्टा की रहने वाली हैं। सुगुना पेशे से उटनूर में जिला परिषद हाईस्कूल में बतौर स्कूल सहायक कार्यरत हैं। दरअसल Tadvai police ने बीते 2 नवंबर को माओवादियों से हमदर्दी रखने वाले 4 संदिग्ध लोगों को पकड़ा था। इन चारों को उस वक्त गिरफ्तार किया गया था तब वो सभी कथित तौर से शीर्ष माओवादी नेता से मिलने के लिए छत्तीसगढ़ जा रहे थे। जिन चार लोगों को पुलिस ने पकड़ा है उनमें हरिभूषण, दामोदर, कनकानाला राजी रेड्डी और माइलारापू अदेलू शामिल हैं। इन सभी को पसरा इलाके के सर्किल इंस्पेक्टर ए. श्रीनिवास की शिकायत के बाद पकड़ा गया था।

इस गिरफ्तारी के अगले ही दिन यानी 3 नवंबर को मुलुगू के सहायक पुलिस अधीक्षक पी साईंचैतन्य ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि पकड़े गए संदिग्ध लोगों ने पूछताछ में बताया है कि करीब 27 अन्य लोगों के लिंक माओवादी नेताओं से हैं। पुलिस ने जिन लोगों पर यूएपीए लगाया है उसमें सुगुना और उसके पति भुजंगा राव भी शामिल हैं। भुजंगा राव के बारे में बताया जा रहा है कि वो भी पित्ताभोंगराम में आदिवासी कल्याण रेडिसेन्सियल स्कूल के शिक्षक हैं। भुजंगा राव के भाई के. वेकटेश समेत कई अन्य लोगों पर यह एक्ट लगाया गया है।

‘The Wire’ से बातचीत करते हुए सुगुना ने अपने ऊपर लगे आरोपों से इनकार किया है। उन्होंने कहा कि उनके पति जिले के मानवाधिकार फोरम (HRF) के वाइस प्रेसिडेंट हैं और वो खुद इस फोरम की अध्यक्ष हैं। उन्होंने कहा कि ‘ हम सिर्फ आदिवासियों के अधिकारों की सुरक्षा के लिए काम कर रहे हैं…इसके अलावा इलाके में स्वास्थ्य सुविधाएं बढ़ाने, पानी की व्यवस्था दुरुस्त करने और ट्रांसपोर्ट की बेहतर व्यवस्था पर हम का करते हैं।’

आंध्र प्रदेश पुलिस ने 22 और 24 नवंबर को 67 एक्टिविस्टों के खिलाफ यूएपीए के तहत केस दर्ज किया। इसमें (HRF) के आंध्र प्रदेश औऱ तेलंगाना यूनिट के कन्वेनर वी.एस कृष्णा भी शामिल हैं। पुलिस ने पकड़े गए लोगों से पूछताछ के बाद हरियाणा से भी कुछ लोगों को इसी आरोप में पकड़ा है।

पुलिस ने 22 नवंबर को दावा किया था उन्होंने माओवादियों से सांठगांठ के आरोप में एक टीवी जर्नविस्ट पोंगी नागन्ना को भी पकड़ा है और वो माओवादियों के लिए कूरियर की तरह काम करती हैं। जिन लोगों पर यूएपीए लगाया गया हैं उनमें वाकापल्ली की कई आदिवासी महिलाएं भी शामिल हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बच्ची से रेप के आरोपी को 146 बेंत मारने की मिली सजा, बीच में ही हुआ बेहोश
2 यूपी: पीएम मोदी से मिलने की चाह में हाईटेंशन बिजली के टॉवर पर चढ़ गया युवक, कई इलाकों की काटनी पड़ी बिजली
3 5 साल की बेटी की रेप, हत्या मामले में पुलिस नहीं कर रही कार्रवाई, आरोप लगा पति-पत्नी ने विधानसभा के सामने किया आत्मदाह का प्रयास
ये पढ़ा क्या?
X