ताज़ा खबर
 

गृहमंत्री ‘अमित शाह’ बन राज्यपाल को किया फोन, फिर की दोस्त को VC बनाने की सिफारिश; आरोपी विंग कमांडर गिरफ्तार

MP News, Indian Air Force, Wing Commander: आरोपियों ने गृहमंत्री अमित शाह बनकर राज्यपाल को फोन पर बात कर शख्स को कुलपति बनाने की सिफारिश की। जिसके बाद एमपी एसटीएफ ने दो लोगो को गिरफ्तार कर लिया।

Author भोपाल | Updated: January 11, 2020 9:05 AM
घटना का पुलिस जांच कर रही है। (indian express file)

MP News, MP Police, Indian Air Force, Wing Commander: मध्यप्रदेश पुलिस की एसटीएफ ने शुक्रवार को भारतीय वायु सेना के एक विंग कमांडर और उसके एक डॉक्टर मित्र को गिरफ्तार किया है। विंग कमांडर ने अपने डॉक्टर मित्र को प्रदेश के चिकित्सा विश्वविद्यालय में कुलपति नियुक्त कराने के लिये राज्यपाल को कथित तौर पर केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह के रुप में फोन किया था।

मामले में पुलिस का बयान: मध्यप्रदेश पुलिस के विशेष कार्य बल (STF) के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अशोक अवस्थी ने ‘भाषा’ को बताया, ‘‘हमने विंग कमांडर कुलदीप वाघेला और उनके एक दंत चिकित्सक मित्र डॉ. चंद्रेश कुमार शुक्ला को गिरफ्तार किया है। वाघेला ने शुक्ला को कुलपति नियुक्त करने के लिये राज्यपाल को केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह के रुप में फोन कर सिफारिश की थी।’’ उन्होंने बताया कि दोनों की आयु 35 से 40 वर्ष के बीच है। वाघेला फिलहाल भारतीय वायु सेना के मुख्यालय, दिल्ली में पदस्थ हैं जबकि शुक्ला भोपाल के निवासी हैं।

क्या है मामला: अवस्थी ने बताया कि वाघेला पूर्व में मध्यप्रदेश के राज्यपाल राम नरेश यादव के कार्यकाल में तीन वर्ष तक उनके एडीसी (परिसहाय) के रुप में यहां राजभवन में पदस्थ रह चुके हैं। उन्होंने बताया कि भोपाल के डेंटिस्ट चंद्रेश कुमार शुक्ला जबलपुर स्थित प्रदेश के चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति पद के इच्छुक थे और उन्होंने इसके लिये आवेदन किया था। शुक्ला का तीन जनवरी को इसके लिये साक्षात्कार हो चुका था। एडीजी ने बताया कि शुक्ला ने अपने मित्र वाघेला को बताया कि वह कुलपति बनना चाहते हैं और कोई वरिष्ठ नेता उनके नाम की सिफारिश राज्यपाल से करे तो यह काम हो सकता है।

गृहमंत्री ‘अमित शाह’ बने आरोपी: अवस्थी ने बताया कि इसके बाद दोनों दोस्तों साजिश रची और वाघेला ने गृह मंत्री अमित शाह बनकर राज्यपाल को फोन पर बात कर शुक्ला को कुलपति बनाने की सिफारिश की। इस फोन कॉल में डॉक्टर शुक्ला ने केन्द्रीय गृहमंत्री शाह के पीए के रुप में बात की। उन्होंने बताया कि इस फोन कॉल के बाद राजभवन के अधिकारियों को संदेह हुआ और इसकी जांच एसटीएफ को सौंपी गई। एसटीएफ की जांच में इस धोखधड़ी का खुलासा हुआ और दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। उन्होंने बताया कि एसटीएफ मामले में वाघेला और शुक्ला से पूछताछ कर रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 बेटी होने से नाराज था पति, बीवी और सास को कपड़े धोने के डंडे से पीटकर मार डाला
2 Goa में यूपी का ‘मंत्री’ बन कर रहा था मौज, ले रखा था गनर और सरकारी गेस्ट हाउस; मसाज के दौरान हुआ ये खुलासा
3 JNU की छात्रा ने दांत से काटा IPS अधिकारी का अंगूठा, विरोध-प्रदर्शन के दौरान जमकर हुआ बवाल
ये पढ़ा क्या?
X
Testing git commit