ताज़ा खबर
 

हीर-रांझा में राजकुमार के साथ किया काम, अभिनेत्री की हत्या से बॉलीवुड था सन्न

कहा जाता है कि चेतन आनंद और प्रिया राजवंश के बीच इतनी नजदीकियां बढ़ीं कि दोनों साथ-साथ रहने लगे थे।

crime, crime newsप्रिया राजवंश की मौत ने बॉलीवुड को हिला कर रख दिया था। फोटो सोर्स- वीडियो स्क्रीनशॉट

दिव्या भारती, परवीन बॉबी, जिया खान और ऐसी कई अभिनेत्रियां हैं जिनकी मौत को लेकर आज भी कई तरह की बातें कही जाती हैं। इन अभिनेत्रियों की मौत को किसी रहस्य के तौर पर देखा जाता है। आज हम बात कर रहे हैं मशहूर फिल्म हीर-रांझा में दिग्गज एक्टर राजकुमार के साथ नजर आईं एक्ट्रेस प्रिया राजवंश की। प्रिया राजवंश ने हकीकत और हिंदुस्तान की कमस जैसी फिल्मों में भी काम किया था। हीर-रांझा में प्रिया राजवंश को काफी तारीफें मिली थीं। जब 26 मार्च, 2002 को इस बेहतरीन अदाकारा की मौत हो गई तब मनोरंजन जगत चौंक उठा था। आगे यह भी पता चला कि प्रिया राजवंश की हत्या प्रॉपर्टी के लिए की गई थी। इस हत्याकांड में उनके पति के बेटे और घर के नौकर शामिल थे।

प्रिया राजवंश का जन्म आज के पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के झेलम में हुआ था। घर वालों ने नाम रखा था वीरा सुंदर सिंह। उनके पिता वन विभाग में काम करते थे। प्रिया की शुरुआती पढ़ाई हिमाचल में ही हुई थी। उनके पिता को नौकरी के सिलसिले में लंदन जाने का मौका मिला और फिर प्रिया भी वहां चली गई थी। उन्होंने लंदन के रॉयल एकेडमी ऑफ ड्रामैटिक आर्ट से ग्रेजुएशन की पढ़ाई की थी।

कहा जाता है कि जब वह 22 साल की थीं और लंदन में थीं तब वहीं एक फोटोग्राफर द्वारा खींची गई फोटो हिंदी फिल्म इंडस्ट्री तक पहुंच गई। यहां जब उनकी तस्वीर जाने माने फिल्ममेकर ठाकुर रणबीर सिंह तक पहुंची, तब उन्होंने डायरेक्टर चेतन आनंद से प्रिया राजवंश की मुलाकात करवाई। बता दें कि चेतन आंनद मशहूर अभिनेता देव आनंद के भाई थे। चेतन ने साल 1964 में उन्हें फिल्म हकीकत में कास्ट किया जो कि हिट साबित हुई थी। इसके बाद उन्होंने छह फिल्मों में काम किया जो कि सभी चेतन आनंद ने डायरेक्ट की थीं।

कहा जाता है कि चेतन आनंद और प्रिया राजवंश के बीच इतनी नजदीकियां बढ़ीं कि दोनों साथ-साथ रहने लगे थे। चेतन पहले से शादीशुदा थे और उनके दो बेटे थे केतन और विवेक। लेकिन चेतन अपनी पत्नी से अलग रहते थे और उनके दोनों बेटे अपनी मां के साथ रहते थे। साल 1977 में चेतन आनंद की मौत के बाद उनकी वसीयत से पता चला था कि चेतन ने अपनी आधी से ज्यादा संपत्ति प्रिया राजवंश के नाम कर दी थी।

कहा जाता है कि यह बात केतन और विवेक को काफी चुभती थी जिसके बाद इन्हीं दोनों ने मिलकर प्रिया राजवंश को खत्म करने का प्लान बनाया। इनपर आरोप लगा था कि इन दोनों ने मिलकर प्रिया राजवंश के नौकर और उनकी नौकरानी को अपने प्लान में शामिल कर लिया। 26 मार्च को प्रिया राजवंश को नशीला पदार्थ धोखे से खिलाया गया और फिर उनकी गला दबा कर हत्या कर दी गई थी। बाद में जब इस हत्याकांड का खुलास हुआ था तब पुलिस ने चेतन आनंद के दोनों बेटों और नौकरों को गिरफ्तार कर लिया था।

Next Stories
1 पूर्व मॉडल को गोली मारने के बाद डेड बॉडी से हुई थी गंदी हरकत, रिबिका लैंड्रिथ की कहानी…
2 बेडरूम और बाथरूम सीन देकर आई थी सुर्खियों में, दाऊद के पीछे पड़ने का किया गया था दावा; अचानक गुम हो गई थीं अभिनेत्री
3 स्कूल में फेल हुई तो चली गईं डिप्रेशन में, बिना कोचिंग पहली ही बार में IAS बन गई थीं रुक्मणि रियार
यह पढ़ा क्या?
X