ताज़ा खबर
 

लॉ स्टूडेंट ने कोर्ट में दर्ज कराए बयान तो बिगड़ी चिन्मयानंद की तबीयत, 6 डॉक्टर कर रहे जांच

मेडिकल कॉलेज के प्रोफेसर डॉ. एमएल अग्रवाल के मुताबिक, उन्हें सूचना मिली थी कि स्वामी चिन्मयानंद की तबीयत खराब हो गई है। फिलहाल चिन्मयानंद की हालत स्थिर है।

Author लखनऊ | Updated: September 17, 2019 11:33 AM
बीजेपी नेता चिन्मयानंद। फोटो सोर्स – Indian Express

पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री व बीजेपी नेता स्वामी चिन्मयानंद पर रेप का आरोप लगाने वाली लॉ स्टूडेंट ने सोमवार (15 सितंबर) को कोर्ट में अपने बयान दर्ज कराए। इसके बाद देर शाम चिन्मयानंद की तबीयत खासी बिगड़ गई। बताया जा रहा है कि 6 डॉक्टरों की टीम उनकी देखभाल कर रही है। सूत्रों के मुताबिक, शाहजहांपुर लॉ कॉलेज में पढ़ने वाली पीड़िता को कड़ी सुरक्षा के बीच मैजिस्ट्रेट गीतिका सिंह की कोर्ट में पेश किया गया, जहां उसने अपने बयान दर्ज कराए।

12 पेज का बयान दर्ज: छात्रा ने ‘भाषा’ को बताया कि मैजिस्ट्रेट ने करीब 12 पेज में उसका बयान दर्ज किया। उसने दिल्ली में जीरो एफआईआर, हॉस्टल के कमरे से चिप और चिन्मयानंद के मालिश वाले वीडियो शूट करने में इस्तेमाल चश्मे के चोरी होने समेत अन्य सबूतों का जिक्र बयान में किया है। छात्रा ने यह भी बताया कि चिन्मयानंद के बेडरूम से चादर, गद्दा, शराब की बोतलें आदि जो सबूत गायब कर दिए गए थे, उनका जिक्र भी बयान में है।

National Hindi News 17 September 2019 LIVE Updates: 69 के हुए PM मोदी, मुलाकात के लिए दिल्ली आएंगी ममता बनर्जी

देर शाम बिगड़ी चिन्मयानंद की तबीयत: सोमवार देर शाम चिन्मयानंद की तबीयत अचानक खराब हो गई। चिन्मयानंद के वकील व प्रवक्ता ओम सिंह ने बताया कि पूर्व गृह राज्य मंत्री को कल रात से ही हल्का बुखार था। सोमवार शाम करीब 8:30 बजे उनकी तबीयत अचानक बिगड़ गई। उन्हें सीने में तेज दर्द हुआ और शुगर लेवल काफी नीचे गिर गया। साथ ही, ब्लड प्रेशर भी असामान्य हो गया। मेडिकल कॉलेज और प्राइवेट डॉक्टरों की टीम उनके आवास पर मौजूद है।

6 डॉक्टरों की टीम ने की जांच: मेडिकल कॉलेज के प्रोफेसर डॉ. एमएल अग्रवाल के मुताबिक, उन्हें सूचना मिली थी कि स्वामी चिन्मयानंद की तबीयत खराब हो गई है। इसके चलते हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. केसी वर्मा के साथ उन्होंने चिन्मयानंद के दिव्य धाम में उनका उपचार किया। इस दौरान एक प्राइवेट नर्सिंग होम से 4 डॉक्टरों की एक टीम भी बुलाई गई। फिलहाल चिन्मयानंद की हालत स्थिर है।

एजेंसी के मैनेजर से भी पूछताछ: सूत्रों ने बताया कि एसआईटी ने पीड़िता को स्वामी चिन्मयानंद द्वारा दिलवाई गई एक स्कूटी के संबंध में एजेंसी के मैनेजर को बुलाकर भी पूछताछ की। इसके अलावा एक मेडिकल स्टोर संचालक से पूछा गया कि चिन्मयानंद उसकी दुकान से कौन-कौन सी दवाएं मंगाते थे।

स्वामी ओम का पुतला फूंका: चिन्मयानंद के समर्थन में बयानबाजी करने वाले स्वामी ओम व मुकेश जैन का शाहजहांपुर में काफी विरोध हो रहा है। बता दें कि एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में मुकेश जैन ने शाहजहांपुर की बेटियों को विषकन्या बताया था। छात्र शक्ति संगठन के कार्यकर्ताओं ने कचहरी चौराहे के पास स्वामी ओम का पुतला फूंका। साथ ही, उनकी जीभ काटकर लाने वाले को 50 लाख रुपए का इनाम देने का ऐलान किया। वहीं, भारतीय युवा परिषद के कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी करते हुए खिरनी बाग चौराहे पर चिन्मयानंद का पुतला फूंका।

24 अगस्त को वायरल हुआ था वीडियो: बता दें कि शाहजहांपुर लॉ कॉलेज की एक छात्रा ने 24 अगस्त को सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट करके चिन्मयानंद पर कई लड़कियों की जिंदगी बर्बाद करने का खुलासा किया था। साथ ही, अपनी व अपने परिवार को जान का खतरा बताया था। इसके बाद लड़की लापता हो गई थी। इस मामले में चिन्मयानंद के खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया गया था। राजस्थान से बरामद होने के बाद छात्रा ने चिन्मयानंद पर रेप का आरोप भी लगाया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 UP: सौतेली मां ने दुश्मनी में मासूम का गला घोंट कर की हत्या, शव पहचान में न आए इसलिए जलाया मोमबत्ती से
2 उत्तर प्रदेश: दबंगों ने दलित युवक को पेट्रोल डालकर जिंदा जला दिया, सदमे में मां ने भी तोड़ा दम
3 खुद को एनकाउंटर स्पेशलिस्ट बता महिलाओं को देता था झांसा, 7 से शादी की, 6 अन्य को बनाया हवस का शिकार