ताज़ा खबर
 

चोर को घर में नहीं मिला कीमती सामान तो बच्ची का करने गया बलात्कार, बचाने के लिए बुजुर्ग दादी ने खुद को सौंपा

जब बच्ची ने घर में घुसे चोर को बतलाया कि घर में कोई भी कीमती सामान नहीं है तो उसने बच्ची के साथ दुष्कर्म करने की धमकी दी। इसके बाद बच्ची की दादी ने खुद को चोर के हवाले कर बच्ची की इज्जत तार-तार होने से बचा लिया।

तस्वीर का प्रयोग प्रतीक के तौर पर किया गया है। (एक्सप्रेस फोटो)

एक बुजुर्ग महिला ने अपनी मासूम पोती की आबरू बचाने के लिए खुद को दरिंदे के हवाले कर दिया। मामला अमृतसर का है। घटना बुधवार (25 अप्रैल) की है। जानकारी के मुताबिक, बुधवार की रात पीड़िता के घर में एक चोर दबे पांव चोरी के इरादे से घुसा था। लेकिन उसे घर में किसी तरह का कीमती सामान नहीं मिला। इस बात से नाराज उस चोर ने घर की नौ साल की बच्ची को दबोच लिया और उसके साथ गलत हरकत करने की कोशिश की। लेकिन घर में मौजूद बच्ची की दादी ने चोर से किसी तरह मिन्नतें कर बच्ची को उसके चंगुल से छुड़ा लिया और खुद को उस चोर के हवाले कर दिया। तब चोर ने 65 साल की बुजुर्ग महिला के साथ दुष्कर्म किया। बताया जा रहा है कि चोर घर में रखे नौ हजार रुपए लेकर भी फरार हो गया। इस मामले में पुलिस अब तक आरोपी दुष्कर्मी को नहीं पकड़ पाई है।

द टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत करते हुए इलाके के एडिशनल डिप्टी कमिश्नर जगदीश सिंह वालिया ने बतलाया कि बुधवार की रात एक शख्स चोरी के इरादे से पीड़ित परिवार के घर में घुसा। घर में घुसने के बाद उसने दरवाजा अंदर से बंद कर दिया। काफी देर तक घर की छानबीन करने के बाद उसे वहां नौ हजार रुपए के अलावा कुछ भी नहीं मिला। इस बात से चोरी करने आया शख्स काफी नाराज हो गया। उसने घर में सो रही नौ साल की मासूम बच्ची से घर के कीमती सामानों के बारे में जानकारी मांगी।

लेकिन जब बच्ची ने चोर को बतलाया कि घर में कोई भी कीमती सामान नहीं है तो उसने बच्ची के साथ दुष्कर्म करने की धमकी दी। इसके बाद बच्ची की दादी ने खुद को चोर के हवाले कर दिया और बच्ची की इज्जत तार-तार होने से बचा लिया। बुजुर्ग महिला से दुष्कर्म के दौरान चोर ने बच्ची और बुजुर्ग महिला को शोर मचाने पर जान से मारने की धमकी दी थी। इस अपराध को अंजाम देने के बाद चोर वहां से फरार हो गया। फिलहाल, पुलिस अब इस मामले में आरोपी शख्स को दबोचने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App