ताज़ा खबर
 

बंगाल: चोरी के शक में 24 साल के युवक को इतना पीटा कि गंवा बैठा जान, मालदा में तनाव

पुलिस के मुताबिक, पीड़ित की पहचान शनौल शेख के रूप में हुई है। बताया जा रहा है कि उसके प्राइवेट पार्ट, आंखों और कानों पर गंभीर चोट लगी थी। उसे कोलकाता के अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी हालत बिगड़ती चली गई और उसकी मौत हो गई।

प्रतीकात्मक फोटो फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

पश्चिम बंगाल के मालदा जिले के कालियाचक और बैष्णभनगर इलाकों में तनाव का माहौल है। बताया जा रहा है कि यहां चोरी के शक में एक युवक (24) पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। यह वारदात 26 जून को अंजाम दी गई। युवक पर बाइक चोरी करने का शक था। जब युवक का शव रविवार (30 जून) को उसके गृहनगर बैष्णभनगर पहुंचा तो लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया। सूत्रों का कहना है कि शनौल शेख के प्राइवेट पार्ट, आंखों और कानों पर गंभीर चोट लगी थी। उसे मालदा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया था, जहां से कोलकाता के एसएसकेएम हॉस्पिटल रैफर कर दिया गया। बताया जा रहा है कि इलाज के दौरान उसकी हालत बिगड़ती चली गई और उसकी मौत हो गई।

घर का अकेला कमाने वाला था शनौल: युवक शनौल शेख की मां सूफिया ने बताया, ‘‘शनौल की पत्नी और 6 महीने की बेटी है। वह परिवार का अकेला कमाने वाला शख्स था। वह ईंट-भट्ठे में काम करता था। बुधवार को कुछ लोगों ने उसे घर के बाहर बुलाया था। बाद में हमें पता चला कि शनौल के साथ मारपीट की गई थी।

National Hindi News, 01 July 2019 LIVE Updates: दिन भर की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

लोगों ने किया प्रदर्शन: रविवार को शनौल को पीटने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसके बाद स्थानीय लोगों का गुस्सा भड़क गया। पुलिस के सूत्रों के मुताबिक, प्रदर्शनकारियों ने एनएच-34 पर जाम लगा दिया। साथ ही, कालियाचक स्थित दुकानों व अन्य प्रतिष्ठानों में तोड़फोड़ की। साथ ही, सरकारी बस में डैमेज कर दी गई। पुलिस ने हालात पर काबू पाने के लिए हवाई फायरिंग की।

Bihar News Today, 01 July 2019: बिहार से जुड़ी हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक 

फिलहाल हालात सामान्य: पुलिस के मुताबिक, प्रदर्शनकारी अल्पसंख्यक समुदाय से ताल्लुक रखते थे। वे युवक की हत्या के विरोध में प्रदर्शन कर रहे थे। तनाव को देखते हुए इलाके में पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है। फिलहाल स्थिति शांतिपूर्ण है। बता दें कि कालियाचक में 2016 के दौरान सांप्रदायिक दंगा तब हुआ था, जब लोगों ने एक पुलिस थाने और गाड़ियों में आग लगा दी थी।

 

बैष्णभनगर थाने का घेराव किया: बताया जा रहा है कि गुस्साई भीड़ ने रविवार को बैष्णभनगर थाने का घेराव भी किया। इस दौरान कांग्रेस नेता और सुजापुर के विधायक ईशा खान चौधरी ने युवक के परिजनों से मुलाकात की। साथ ही, लोगों से शांति कायम रखने व दोषियों की गिरफ्तारी की मांग की। चौधरी ने कहा, ‘‘युवक के परिजन व स्थानीय लोग प्रदर्शन करने के लिए शव को बैष्णभनगर थाने ले जाना चाहते थे। मैंने उन्हें प्रदर्शन नहीं करने के लिए समझाया। हमने युवक के हत्यारों को गिरफ्तार करने की मांग की है। साथ ही, पुलिस से यह भी पता लगाने के लिए कहा है कि यह सांप्रदायिक घटना तो नहीं है।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 क्लिनिक में अश्लील वीडियो बना कई महिलाओं से किया, बाप-बेटा गिरफ्तार
2 स्कूल में हमेशा फर्स्ट आती थी, जलन की वजह से भाइयों ने बहन का गैंगरेप कर वीडियो किया वायरल
3 ‘कौन बनेगा करोड़पति’ की लॉटरी के नाम पर महिला को लगाया चूना, वॉट्सऐप वीडियो मैसेज से लिया झांसे में