ताज़ा खबर
 

इन 30 विदेशियों की हिम्मत देखो! बिना वीजा पकड़े गए तो पुलिस को पीटा, खाने में मांग रहे चिकन-मटन

शनिवार की दोपहर कुछ नाइजीरियनों ने नोएडा में सिटी मजिस्ट्रेट से मुलाकात की। इस दौरान उन लोगों ने मजिस्ट्रेट को एक पत्र भी सौंपा। जिसमें विदेशी नागरिकों को छोड़ने और वीजा मिलने तक किसी भी प्रकार की कार्रवाई न करने लिए कहा गया है।

Greater Noida, Greater Noida Police beat up case, Nigerians, up police, foreigners Police beat up case, crime news, Greater Noida crime newsइन 30 विदेशियों की हिम्मत देखो! बिना वीजा पकड़े गए तो पुलिस को पीटा, खाने में मांग रहे चिकन-मटन

ग्रेटर नोएडा में अवैध रूप से रह रहे विदेशी युवक-युवतियों को पकड़े जाने की खबर कुछ दिनों पहले आई थी। इस घटना में अब एक नया मोड़ आया है। दरअसल पकड़े गए विदेशी युवक और युवतियों ने मिलकर पुलिस लाइन के डिटेंशन सेंटर में पुलिसकर्मियों से मारपीट की है। जिससे परेशान होकर पुलिस शुक्रवार की रात करीब एक बजे 30 युवक और युवतियों को मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया। जिसके बाद मजिस्ट्रेट ने सभी को सीआरपीसी की धारा 151 के तहत 14 दोनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

बताते चलें कि पुलिस ने बीते 10 जुलाई को ऑपरेशन क्लीन के तहत शहर में रह रहे विदेशी नागरिकों की जांच की थी। जांच में 60 ऐसे युवक और युवतियां पकड़े गए थे जो अवैध रूप से ग्रेटर नोएडा में रह रहे थे। इनमें से एक महिला के पास से गांजा भी बरामद किया गया था। जिसे पुलिस ने जेल भेज दिया था। बाकी लोगों को पुलिस लाइन के डिटेंशन सेंटर में रखा गया था। जबकि 12 लोगों के परिवारवालों ने जब पुलिस को उनका वीजा और पासपोर्ट दिया तो उन्हें छोड़ दिया गया। बता दें कि 10 जुलाई की रात डिटेंशन सेंटर से 20 विदेशी युवक फरार हो गए थे। जांच के बाद पुलिस ने सभी आरोपियों को वापस उनके देश भेजने की प्रक्रिया में लगी है। बताया जा रहा है कि इस प्रक्रिया को पूरी होने में 15 दिनों समय लगेगा। इस कारण से आरोपियों को डिटेंशन सेंटर में रखा था।

आरोपी पुलिस को परेशान करने के लिए तरह-तरह की मांग करते थे। खाने में चिकन, मटन और बिरयानी की मांग कर रहे थे। गिरफ्तार किए गए सभी विदेशी नागरिकों को छोड़ने की मांग नाइजीरियनों ने की। शनिवार की दोपहर कुछ नाइजीरियनों ने नोएडा में सिटी मजिस्ट्रेट से मुलाकात की। इस दौरान उन लोगों ने मजिस्ट्रेट को एक पत्र भी सौंपा। जिसमें विदेशी नागरिकों को छोड़ने और वीजा मिलने तक किसी भी प्रकार की कार्रवाई न करने लिए कहा गया है। इस मामले के संबंध में सिटी मजिस्ट्रेट शैलेंद्र कुमार ने कहा है कि मामले की जांच की जा रही है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Delhi: 50 रुपए नहीं दिए तो रेहड़ी लगाने वाले बुजुर्ग पर कर दिया हमला, पत्थर से कूचकर मार डाला
2 BJP नेता ने मुस्लिम ऑटो ड्राइवर को जमकर पीटा, गोलियां भी चलाईं
3 राजस्थान: पुलिसवाले को पीट-पीटकर कर मार डाला, केस की तफ्तीश के लिए गए थे अब्दुल गनी