ताज़ा खबर
 

शर्मनाक! शख्‍स ने 10 साल की बेटी से किया रेप, पीड़िता ने पहले क्‍लासमेट को बताया था दर्द

लड़की की मां कुछ समय पहले ही गुजर गई थी। तभी से, वह लड़की अपने पिता के साथ रह रही थी। लड़की के अकेलेपन का फायदा उठाकर उसके पिता ने बेटी के साथ कई बार रेप किया था।

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर। Express Photo by Vishal Srivastav.

दिल्ली में रिश्तों को शर्मसार करने वाला एक मामला फिर से सामने आया है। ये मामला दक्षिण—पूर्वी दिल्ली के गोविंदपुरी इलाके का है। इस मामले में 40 साल के पिता पर 10 साल की बेटी के साथ रेप करने का आरोप लगा है। पीड़ित बच्ची ने खुद के ऊपर हो रहे इस अत्याचार के बारे में अपनी सहपाठी को बताया था। सहपाठी ने इस मामले के बारे में अपनी स्कूल की शिक्षिका को बताया। शिक्षिका ने इस बारे में पुलिस को सूचना दी।

दिल्ली पुलिस ने अतिरिक्त पुलिस उपाधीक्षक (दक्षिण-पूर्व) घनश्याम बंसल ने मीडिया को बताया कि इस मामले में पोक्सो एक्ट के तहत कार्रवाई करते हुए आगे की जांच शुरू कर दी गई है। पीड़िता बच्ची को मंगलवार (28 अगस्त) को एम्स के ट्रॉमा सेंटर में मेडिकल जांच के लिए ले जाया गया था।

पुलिस ने मीडिया को बताया, इस मामले की प्राथमिक जांच में पता चला है कि लड़की की मां कुछ समय पहले ही गुजर गई थी। तभी से, वह लड़की अपने पिता के साथ रह रही थी। लड़की के अकेलेपन का फायदा उठाकर उसके पिता ने बेटी के साथ कई बार रेप किया था। मामले का खुलासा तब हुआ, जब पीड़ित बच्ची ने अपने क्लास में साथ पढ़ने वालों को इस बारे में बताया। बाद में सहपाठियों ने इस बारे में क्लास टीचर को सूचना दी। जैसे ही टीचर को इस बारे में जानकारी मिली। उन्होंने तुरंत बच्ची को बुलाकर पूछताछ की और पता किया कि आखिर कौन उसके साथ गलत काम करता है?

बातचीत के बाद स्कूल के प्रबंधन ने पुलिस से संपर्क करने का फैसला किया। इसके बाद स्कूल प्रबंधन की तरफ से पुलिस को घटना की सूचना दी गई। पुलिस की टीम लड़की के घर की ओर भेज दी गई और आरोपी पिता को हिरासत में ले लिया गया। पुलिस की पूछताछ में पीड़ित पिता ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है। जांच अधिकारियों ने मीडिया को बताया कि पुलिस मेडिकल रिपोर्ट आने का इंतजार कर रही है। पुलिस इस बारे में भी जांच करेगी कि कहीं पिता मानसिक विकृति का शिकार तो नहीं है। फिलहाल पीड़िता बच्ची की मानसिक काउंसिलिंग की जा रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App