चौपाल: दोहरी समस्या

आजकल कोरोना से बचाव के इंतजाम के बीच हमारे देश की अर्थव्यवस्था बहुत नीचे गिर गई है। इसी के साथ दूसरी समस्या ठूंठ या पराली जलाया जाना पैदा हो गई है। किसान असहाय हैं।

farmers protest in Haryana farmers protest in Punjab
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (AP)

आजकल कोरोना से बचाव के इंतजाम के बीच हमारे देश की अर्थव्यवस्था बहुत नीचे गिर गई है। इसी के साथ दूसरी समस्या ठूंठ या पराली जलाया जाना पैदा हो गई है। किसान असहाय हैं। उनके पास ठूंठ को जलाने का एकमात्र विकल्प है।

हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश में पराली जलना अपने पूरे शबाब पर है और यह प्रदूषण पैदा कर रहा है। लोग धान के शेष हिस्सों को जलाने के लिए इच्छुक नहीं हैं। दिन-रात खेतों में कड़ी मेहनत करते हैं और हमें खिलाते हैं। उनका लाभ बहुत कम है, सरकार और जनता को उनकी मदद करनी चाहिए।
’नरेंद्र कुमार शर्मा, भुजडू, जोगिंदर नगर, हिप्र

पढें चौपाल समाचार (Chopal News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।