चौपाल

कथनी बनाम करनी

साहित्य अकादेमी पुरस्कार लौटाने वाले साहित्यकारों पर सरकार और सत्तारूढ़ दल जिस प्रकार आक्रामक हो रहे हैं, उन पर जिस तरह के इल्जाम लग...

दरिंदगी की हद

हरियाणा के फरीदाबाद में दबंगों द्वारा दलित परिवार के घर में आग लगा कर, जिस क्रूर तरीके से हत्या के प्रयास किए गए, ऐसी...

दावे और हकीकत

एक साक्षात्कार में प्रधानमंत्री मोदी ने दादरी घटना और मुंबई में शिवसेना के विरोध के कारण पाकिस्तानी गायक गुलाम अली का प्रस्तावित कार्यक्रम रद्द...

किसका विकास

विकास का अर्थ अधिकतर भारतीयों के लिए यह नहीं है कि जापान जैसी बुलेट ट्रेन या अमेरिका और यूरोपीय देशों जैसा भौतिक मूल ढांचा...

महिला असुरक्षा

दिल्ली में दो मासूमों से बलात्कार का राजनीतिकरण यह दिखाता है कि हमारे देश में किस तरह हर एक संवेदनशील मुद्दे को भी राजनीतिक...

घोषणा के बरक्श

आज देश ने अपना कदम ‘डिजिटल इंडिया’ की ओर बढ़ाया तो है, लेकिन इसकी नींव बहुत ही कमजोर है। इस कार्यक्रम की पहुंच की...

अपना गिरेवां

अंतरराष्ट्रीय धार्मिक आजादी पर हाल में जारी अमेरिकी रिपोर्ट के मुताबिक भारत में धर्म परिवर्तन संबंधी हत्याएं, मुसलमानों और ईसाइयों पर अत्याचार और दंगे...

डिजिटल के बरक्स

जिस डिजिटल इंडिया की खूब चर्चा है, उसमें नया क्या है? पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत राजीव गांधी ने 1980 के दशक में एनआइएस यानी नेशनल...

बेरोजगारी का दर्द

हमारा देश भले कितनी भी तरक्की कर ले, पर बेरोजगारी खत्म होने का नाम नहीं ले रही। इसी का जीता-जागता सबूत हैं उत्तर प्रदेश...

गरीब का हक

गरीब की जिंदगी दिन-ब-दिन मुश्किल होती जा रही है। जिन सुविधाओं का वह हकदार है, वे लचर नीतियों, व्यवस्थागत खामियों की वजह से उससे...

अपने पराए

मनुष्य की अनोखी प्रवृत्ति होती है। वह अपनी लाचारी, कमजोरी और बेबसी को किसी के सामने उजागर नहीं होने देता। वह तब और ज्यादा...

सद्भाव जरूरी

पहले ही पड़ोसी देश हमारे पीछे पड़े हैं। चीन और पाकिस्तान हमारे दोस्त नेपाल को उकसाने और अपनी खुराफाती हरकतों से बाज नहीं आ...

प्रदूषण की मार

पर्यावरण में जिस तरह प्रदूषण का जहर घुल रहा है उससे जीवन की प्रत्यास्था घट रही है। ऐसे समय में शीर्ष अदालत की चिंता...

अनर्थनीति

पिछले दिनों यूनान के आर्थिक संकट की बहुत चर्चा हुई। महान सभ्यताओं वाला देश एक झटके में आर्थिक रूप से धराशायी हो गया।

सिर्फ खेल

इन दिनों अक्सर देखा गया है कि क्रिकेट मैच खेल के रूप में और खेल भावना के साथ नहीं खेले जा रहे। स्टेडियम में...

रिश्ते पर राजनीति

पिछले दिनों अमेरिका दौरे में जब नरेंद्र मोदी फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग से बातचीत के दौरान अपनी मां का जिक्र करते हुए भावुक...

आर्थिक आधार

भारत में जातिगत आरक्षण की शुरुआत विलियम हंटर और ज्योतिबा फुले ने 1882 में अलग-अलग प्रारूपों में की जिसे छत्रपति साहूजी ने 1901 में...

कैसा संविधान

लगभग सात साल की मशक्कत के बाद नेपाल ने अपना नया संविधान तो तैयार कर लिया था पर इसके साथ ही पुराना बखेड़ा संगठित...

ये पढ़ा क्या?
X