चौपाल Archives - Page 116 of 117 - Jansatta
ताज़ा खबर
 

चौपाल

गंगा सफाई की गति

जनसत्ता 8 अक्तूबर, 2014: जिस प्रकार से सर्वोच्च अदालत ने फिर गंगा सफाई योजना पर अपनी नाराजगी जताई है वह यही बताती है कि...

समरथ के द्वीप

जनसत्ता 7 अक्तूबर, 2014: प्रमोद मीणा के लेख ‘प्रतीकों की राजनीति’ (4 अक्तूबर) में गांधी की अवधारणा और मोदी के दिखावे का अच्छा विश्लेषण...

सफाई और शराब

जनसत्ता 7 अक्तूबर, 2014: दो अक्तूबर को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की याद के साथ गरीबी, सादगी, सच्चाई और त्याग-तपस्या से उठे लालबहादुर शास्त्री और...

स्वच्छता या दिखावा

जनसत्ता 4 अक्तूबर, 2014: ताजा ‘स्वच्छ भारत’ मिशन एक अच्छी पहल है। ऐसा नहीं है कि सफाई को लेकर पहली बार कोई पहल सामने...

बेटियों की जगह

जनसत्ता 4 अक्तूबर, 2014: कन्या भ्रूणहत्या के खिलाफ अब एक और कानून बनाने की बात चल रही है। लेकिन सच यह है कि इसके...

न्याय का तकाजा

जनसत्ता 3 अक्तूबर, 2014: भ्रष्टाचार के मामले में जयललिता को चार साल के कारावास और सौ करोड़ रुपए के भारी जुर्माने के न्यायिक फैसले...

सफाई के बरक्स

जनसत्ता 3 अक्तूबर, 2014: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ‘स्वच्छ भारत अभियान’ के तहत देश का हर नागरिक स्वस्थ हो, जिसके लिए देश का कोना-कोना...

मुनाफे का खेल

जनसत्ता 2 अक्तूबर, 2014: तवलीन सिंह ने ‘वक्त की नब्ज’ (28 सितंबर) स्तंभ में कोयला घोटाले से संबंधित सुप्रीम कोर्ट के निर्णय पर टिप्पणी...

सूचना से परहेज

जनसत्ता 2 अक्तूबर, 2014: हमारे राजनीतिक दलों की दलील है कि वे कोई सरकारी विभाग नहीं हैं, इसलिए सूचनाधिकार अधिनियम उन पर लागू नहीं...

कूटनीतिक विचलन

जनसत्ता 1 अक्तूबर, 2014: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति ओबामा को गीता भेंट करके अपनी धार्मिक निष्ठा और विश्वास का तो प्रदर्शन किया,...

हिंदी के लिए

जनसत्ता 1 अक्तूबर, 2014: देश को 1947 में स्वतंत्रता तो मिल गई पर स्वभाषा नहीं मिल सकी। स्वाधीनता के सारे दस्तावेज न केवल अंगरेजी...

अनचाही पहचान

जनसत्ता 30 सितंबर, 2014: विष्णु नागर ने ‘धार्मिक स्वतंत्रता का अर्थ’ (26 सितंबर) लेख में बहुत अहम मुद्दा उठाया है जो अक्सर चर्चा में...

पाक की रट

जनसत्ता 30 सितंबर, 2014: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में कश्मीर मुद्दा उठा कर फिर सिद्ध कर दिया कि जब-जब उनके अपने...

नकल के माफिया

जनसत्ता 29 सितंबर, 2014: हमारे यहां दो तरह की प्रतियोगी परीक्षाएं आयोजित की जाती हैं। पहली स्थिति में परीक्षार्थी सीधे नौकरी के लिए जंग...

न्याय में देरी

जनसत्ता 29 सितंबर, 2014: भारत के पूर्व प्रधान न्यायाधीश आरएम लोढ़ा का कहना है कि ‘सफल नहीं होंगे न्यायपालिका की स्वतंत्रता छीनने के प्रयास’...

मंगल और विज्ञान

जनसत्ता 26 सितंबर, 2014: यह कोई नई बात नहीं है, इससे पहले भी तरह-तरह के बेतुके तर्क दे-देकर विज्ञान को खारिज करने की तमाम...

परंपरा की जकड़

जनसत्ता 26 सितंबर, 2014: जिन बालक और बालिकाओं की खेलने-कूदने और पढ़ने की उम्र होती है, उस उम्र में, परंपरा कहें या मां-बाप का...

हिंदी के साथ

जनसत्ता 25 सितंबर, 2014: दिलीप खान ‘हिंदी की मुश्किलें’ (21 सितंबर) में लिखते हैं-‘सामाजिक विज्ञान से लेकर दूसरे अनुशासनों में अनुवादों को छोड़ दें...