चौपाल Archives - Page 108 of 117 - Jansatta
ताज़ा खबर
 

चौपाल

बहस से परहेज

कुछ दिन पहले तक बहुराष्ट्रीय कंपनी के साबुन के एक विज्ञापन में अपनी स्वच्छ छवि बेचने वाली किरण बेदी औपचारिक रूप से भाजपा में...

घर वापसी

आजकल ‘घर वापसी’ का जुमला बहुत आक्रामक ढंग से उछाला जा रहा है। इससे सांप्रदायिक सद्भाव के तहस-नहस होने की आशंका है। यही रोड...

केजरी कहिन

भाजपा और कांग्रेस से पैसे ले लो, ना मत कहो, लेकिन मतदान ‘आप’ को ही करो’- ऐसा आह्वान अरविंद केजरीवाल ने मतदाताओं से किया...

लोकतंत्र का तकाजा

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने संसदीय लोकतंत्र को लेकर जो खरी-खरी बातें की हैं वे भारत के तमाम राजनीतिक दलों के लिए सीख तो हैं...

फैसले का मूल्य

बहुत से लोगों का यह विचार होता है कि किसी फैसले का मूल्य उसके नतीजे पर निर्भर करता है। अगर नतीजा अच्छा तो फैसला...

क्या रणनीति

यह एक सर्वविदित सच्चाई है कि इस देश की सबसे भ्रष्ट संस्था कोई है तो वह है पुलिस। इसका अनुभव हम प्रतिदिन किसी न...

अमीर उम्मीदवार

इन दिनों कुछ लोग आम आदमी पार्टी की इसलिए आलोचना कर रहे हैं कि इसके प्रत्याशी संपत्ति के मामले में दूसरी पार्टियों के प्रत्याशियों...

गंगा की मुक्ति कब

गंगा को सिर्फ एक नदी के रूप में नहीं देखा जा सकता। वह जिन क्षेत्रों से गुजरती है वहां वह लोगों के संस्कार, सरोकार,...

चीन की मंशा

चीन के एक अखबार ने कहा है कि भारत को शीत युद्ध की मानसिकता से बाहर निकलना चाहिए ताकि चीन के साथ संबंध मजबूत...

साक्षी महाराज: जुबान पर लगाम

ऐसा लग रहा है कि भाजपा नेताओं ने अपने बयानों से लोगों को लगातार जख्म देने की ठान ली है। भ्रष्टाचार मुक्त भारत, काले...

किरण बेदी: उम्मीद की किरण

देश की पहली महिला आइपीएस अधिकारी किरण बेदी के भाजपा में शामिल होने से पार्टी में खुशी और उल्लास का माहौल होना स्वाभाविक है।...

किसके सेवक

विचार और नीति से परे किसी व्यक्ति का महिमामंडन कर जब सिर-आखों पर बैठा लिया जाता है, तो बैठाने वालों को उसके दोष दिखाई...

नीति कुनीति

सरकार का यह कर्तव्य बनता है कि सर्वेक्षण और पंजीकरण से पहले वह निर्वाचन आयोग से मिल कर जिन लोगों को मताधिकार पत्र निर्गत...

आमिर खान की फिल्म ‘PK’: विवाद का बाजार

आमिर खान की फिल्म ‘पीके’ रिलीज होते ही भावनाएं आहत होने और भड़कने का वही सिलसिला एक बार फिर शुरू हो गया जो पिछले...

पेरिस हमला: असहिष्णुता के विरुद्ध

फ्रांस की कार्टून पत्रिका ‘शार्ली एब्दो’ पर आतंकी हमला इस हकीकत को दर्शाता है वैचारिक धरातल पर मानव सभ्यता आज भी बर्बर असहिष्णुता को...

धर्म और मानवधर्म

राजकिशोर का लेख ‘हम धर्म के बिना नहींं रह सकते’ (7 जनवरी) पढ़ा। सचमुच आज धर्म को विमर्श के केंद्र में लाना जरूरी हो...

एक ही थैली के

दिल्ली में विधानसभा चुनाव की घोषणा हो गई है और सभी पार्टियां फिर तरह-तरह के लोकलुभावन वादे कर रही हैं। इनमें आम आदमी पार्टी...

राजनीति से दूर

नरेंद्र मोदी जिस तरह से पटेल, गांधी या किसी और नेता का नाम भुनाने का प्रयास कर रहे हैं उससे कुछ नहीं होना। मोहनदास...