ताज़ा खबर
 

चौपाल: विचार के प्रतीक

हम जीवन के शुरुआती चरणों से जीवन के हर चरण में उनका मार्गदर्शन प्राप्त करते हैं। उन्होंने देश ओर राष्ट्र के कल्याण के लिए काम किया। इसके लिए उन्हें कई कठिनाइयों, समस्याओं और चिंताओं का सामना करना पड़ा।

महात्मा गांधी और बादशाह खान (फोटो- इंडियन एक्सप्रेस आर्काइव)

तीस जनवरी 1948 को एक हत्यारे ने गांधीजी को गोली मार कर हत्या कर दी थी। वे शहीद हुए थे। महात्मा गांधी के विचार ओर शिक्षाएं पूरी दुनिया के लिए एक किरण हैं। उनके अहिंसा के आंदोलन ने पूरी दुनिया को प्रभावित किया। विश्व के सभी लोगों ने गांधीजी के प्रयासों को स्वीकार किया है।

नेल्सन मंडेला गांधीजी से इतने प्रभावित हुए थे कि उन्होंने अपना पूरा जीवन गांधीजी के सिद्धांतों पर चलते हुए बिताया। वे चाहते थे कि हर कोई जाति, रंग धार्मिक पूर्वाग्रह को दूर रखें ओर शिक्षा प्राप्त करने के लिए आगे बढ़े। गांधीजी ने विभिन्न शैक्षिक नीतियों और योजनाओं के माध्यम से मनुष्य के संपूर्ण जीवन प्रतिबिंबित किया है।

हम जीवन के शुरुआती चरणों से जीवन के हर चरण में उनका मार्गदर्शन प्राप्त करते हैं। उन्होंने देश ओर राष्ट्र के कल्याण के लिए काम किया। इसके लिए उन्हें कई कठिनाइयों, समस्याओं और चिंताओं का सामना करना पड़ा। उनका बलिदान हमारे लिए मनुष्यता के हक में लड़ाई का एक उदाहरण है।
’साजिद महमूद शेख, ठाणे, महाराष्ट्र

Next Stories
1 चौपाल: कुप्रथाओं की कैद
2 चौपाल: पर्यावरण से हम
3 चौपाल: गांधी मार्ग
ये पढ़ा क्या?
X