ताज़ा खबर
 

फरार या शिकार

मध्यप्रदेश में एक लाख करोड़ के आसपास माने जा रहे व्यापम घोटाले में दो हजार लोग कारावास में हैं, तैंतालीस की अस्वाभाविक मृत्यु हो चुकी है और पांच सौ लोग फरार बताए जाते हैं। जब इतनी मौतों पर प्रदेश सरकार गंभीर नहीं है तो सवाल उठता है कि जो लोग फरार बताए जाते हैं उनके […]

मध्यप्रदेश में एक लाख करोड़ के आसपास माने जा रहे व्यापम घोटाले में दो हजार लोग कारावास में हैं, तैंतालीस की अस्वाभाविक मृत्यु हो चुकी है और पांच सौ लोग फरार बताए जाते हैं। जब इतनी मौतों पर प्रदेश सरकार गंभीर नहीं है तो सवाल उठता है कि जो लोग फरार बताए जाते हैं उनके जीवन की स्थिति क्या है? ऐसा तो नहीं कि उपर्युक्त तैंतालीस लोगों की तरह वे भी अस्वाभाविक मृत्यु के शिकार हो चुके हों।

ये लोग कोई आदतन अपराधी नहीं थे इसलिए उनका इतने दिनों तक पुलिस से बच कर ‘फरार’ रहना कैसे संभव हो पा रहा है?
वीरेंद्र जैन, रायसेन रोड, भोपाल

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करें- https://www.facebook.com/Jansatta

ट्विटर पेज पर फॉलो करने के लिए क्लिक करें- https://twitter.com/Jansatta

Next Stories
1 इतने अधीर
2 इस हम्माम में
3 संकट का समाधान
ये पढ़ा क्या?
X