ताज़ा खबर
 

प्रचार से पहले

दो मिनट में तैयार होने वाली मैगी ने पल भर में ही देश के लोगों का स्वाद बिगाड़ दिया है। जो कल तक तकरीबन हर घर का हिस्सा थी, आज उसे लोग देखना भी पसंद नहीं कर रहे हैं। आधुनिकता की दौड़ में यही है प्रचार का परिणाम। प्रचार के बल पर ही कल तक […]

दो मिनट में तैयार होने वाली मैगी ने पल भर में ही देश के लोगों का स्वाद बिगाड़ दिया है। जो कल तक तकरीबन हर घर का हिस्सा थी, आज उसे लोग देखना भी पसंद नहीं कर रहे हैं। आधुनिकता की दौड़ में यही है प्रचार का परिणाम। प्रचार के बल पर ही कल तक नेस्ले का यह उत्पाद शिखर पर था और आज उसने धड़ाम से जमीन पकड़ ली।

मैगी का प्रचार करने में अपने-अपने जमाने के बॉलीवुड मशहूर सितारे सक्रिय रहे हैं। अमिताभ बच्चन, माधुरी दीक्षित, प्रीटी जिंटा आदि। संयोगवश, एक अदालत ने मैगी का प्रचार कर रहे इन सिने सितारों के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई करने और जरूरत पड़ने पर गिरफ्तार करने का भी आदेश दे डाला है।

मैं शुरू से इसका पक्षधर रहा हूं कि किसी उत्पाद का विज्ञापन करने से पहले उसकी विश्वसनीयता की परख के बाद ही किन्हीं को उस उत्पाद का ‘ब्रांड एंबेसडर’ बनना चाहिए क्योंकि अधिकतर उपभोक्ता उत्पाद की गुणवत्ता से अधिक उसके ब्रांड एंबेसडर पर विश्वास करते हैं। ये प्रचार करने वाले अभिनेता-अभिनेत्रियां करोड़ों लोगों के ‘आदर्श’ भी होते हैं। ऐसे सितारे जिन्हें लोग पलकों पर बिठाते हैं, चंद पैसों के लिए भ्रामक प्रचार में दिखें तो यह कतई सराहनीय नहीं है।

आज कई सितारे हैं जो गंजों के सर पर बाल उगाने, चर्बी घटाने, सेक्स पॉवर बढ़ाने, श्रीयंत्र, पंचमुखी हनुमान यंत्र जैसे तावीज आदि का तमाम टीवी चैनलों पर प्रचार करते नजर आते हैं। क्या यह गैर जिम्मेदाराना नहीं है? पढ़े-लिखे और ऐसे लोग जो जानते हैं कि उनकी कही गई एक-एक बात दूर तक जाती है, वे क्यों किसी भी ऊल-जलूल उत्पाद का प्रचार करने में लगे रहते हैं? आज सदी के कथित महानायक अमिताभ बच्चन हों या अरसे तक युवाओं के दिलों पर राज करने वाली माधुरी दीक्षित या अन्य कई सितारे, सबने अपनी पहचान का गलत इस्तेमाल कर लोगों को बरगलाने का प्रयास किया है।

मैगी-जांच की रिपोर्ट जो भी हो, लेकिन यह सोचने का समय है कि बलराज साहनी, देवानंद, राजकपूर, राजेंद्र कुमार आदि अभिनेताओं ने कभी किसी उत्पाद का भ्रामक प्रचार नहीं किया लेकिन उन्होंने जो दौलत कमाई वह सदियों तक खत्म नहीं होने वाली है। आज भी समय है कि तमाम भ्रामक विज्ञापनों से ये सितारे अपने को दूर रखें ताकि उनकी चमक बनी रहे और आने वाली पीढ़ियां भी उन्हें इतना ही प्यार करें जितना आज की पीढ़ी करती है।
अशोक कुमार, तेघड़ा, बेगूसराय

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करें- https://www.facebook.com/Jansatta

ट्विटर पेज पर फॉलो करने के लिए क्लिक करें- https://twitter.com/Jansatta

Next Stories
1 कबीर की याद
2 जाति की जकड़
3 मोदी सरकार की उपलब्धि
यह पढ़ा क्या?
X