ताज़ा खबर
 

मीडिया से खौफ

आम आदमी पार्टी के नेता इन दिनों मीडिया से बहुत खफा हैं। हकीकत यह है कि जिस जनादेश ने ‘आप’ को सत्ता के सिंहासन पर बैठाया उसे दिलाने में कहीं न कहीं मीडिया की भी अहम भूमिका रही है। तब मीडिया से किसी प्रकार परेशानी नहीं थी तो आज चिंता क्यों सता रही है? दिल्ली […]

आम आदमी पार्टी के नेता इन दिनों मीडिया से बहुत खफा हैं। हकीकत यह है कि जिस जनादेश ने ‘आप’ को सत्ता के सिंहासन पर बैठाया उसे दिलाने में कहीं न कहीं मीडिया की भी अहम भूमिका रही है। तब मीडिया से किसी प्रकार परेशानी नहीं थी तो आज चिंता क्यों सता रही है? दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल को ऐसा क्यों लग रहा है कि मीडिया उनकी छवि खराब कर रहा है? कहीं यह चोर की दाढ़ी में तिनका वाला मामला तो नहीं! दिल्ली सरकार के मीडिया विरोधी सर्कुलर पर सुप्रीम कोर्ट की रोक के बाद कुछ तो समझ आ ही गया होगा ‘आप’ प्रमुख को।

केजरीवाल और उनकी पार्टी को समझना होगा कि वे कोई ऐसा काम ही न करें जिससे उनकी छवि खराब हो और मीडिया अंगुली उठाने का मौका मिले। केजरीवाल एक ओर तो पारदर्शिता की बात करते हैं मगर दूसरी ओर मीडिया की स्वतंत्रता पर रोक लगाना चाहते हैं। केजरीवाल रोज-रोज के बेवजह के विवाद खड़े करना बंद करें और जिन वादों को लेकर सरकार बनाई है उन्हें पूरा करने में ध्यान लगाएं।
शशि पांडेय, गोविंदपुरी, दिल्ली

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करें- https://www.facebook.com/Jansatta

ट्विटर पेज पर फॉलो करने के लिए क्लिक करें- https://twitter.com/Jansatta

 

Next Stories
1 हिंदी में मोदी
2 सियासी मुद्राएं
3 परिधान का प्रश्न
यह पढ़ा क्या?
X