ताज़ा खबर
 

बधाई के बहाने

कुछ समय पहले एक जुलाई को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का जन्मदिन लोगों ने धूमधाम से मनाया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट किया और राज्यपाल ने भी घर जाकर बधाई दी। यह अच्छी बात है, इसमें किसी को क्या आपत्ति! असल में पहली जुलाई अखिलेश यादव का जन्मदिन सिर्फ लिखत-पढ़त में है। […]

Author July 23, 2015 1:44 PM

कुछ समय पहले एक जुलाई को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का जन्मदिन लोगों ने धूमधाम से मनाया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट किया और राज्यपाल ने भी घर जाकर बधाई दी। यह अच्छी बात है, इसमें किसी को क्या आपत्ति! असल में पहली जुलाई अखिलेश यादव का जन्मदिन सिर्फ लिखत-पढ़त में है। इस बात को वे छिपाते भी नहीं हैं।

वे अपना जन्मदिन अपने परिवार के साथ तेईस अक्तूबर को मनाते हैं- हर साल वे ऐसा करते हैं। लेकिन लोग सब कुछ जानने के बाद भी पहली जुलाई को उनको जन्मदिन की बधाई देने पहुंच जाते हैं। आखिर लोग इतने उतावले क्यों हो जाते हैं। नकली जन्मदिन पर ढेर सारी बधाई और असली जन्मदिन पर खामोशी?
स्नेह मधुर, डालीबाग, लखनऊ

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करें- https://www.facebook.com/Jansatta

ट्विटर पेज पर फॉलो करने के लिए क्लिक करें- https://twitter.com/Jansatta

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App