ताज़ा खबर
 

चौपाल : चिंता की बात

ढाका में जिन आतंकियों ने बीस लोगों की हत्या कर दी, बाद में पता चला कि उनमें से एक विवादास्पद इस्लामी उपदेशक जाकिर नाइक से प्रभावित था।
Author नई दिल्ली | July 18, 2016 00:11 am
ढाका कैफे पर हुए हमले में मारे गए लोगों की आत्‍मा की शांति के लिए कैंडल जलाते लोग। (Source: Reuters/Adnan Abidi)

ढाका में जिन आतंकियों ने बीस लोगों की हत्या कर दी, बाद में पता चला कि उनमें से एक विवादास्पद इस्लामी उपदेशक जाकिर नाइक से प्रभावित था। दुनिया के सबसे खूंखार आतंकी संगठन आइएस से सहानुभूति रखने के आरोप में भारत में जिन संदिग्ध लोगों की गिरफ्तारियां हुई थीं उनमें से भी कुछ ने जाकिर के भाषणों से प्रभावित होने की बात कही थी। अगर किसी के भाषणों का ऐसा असर हो रहा है, तो इससे ज्यादा चिंता की बात और क्या होगी? यह सोच कर चिंता और बढ़ जाती है कि जाकिर के पास प्रचार-प्रसार का अच्छा-खासा तंत्र है; ‘पीस’ टीवी चैनल के जरिए उनके भाषण बरसों से प्रसारित किए जाते रहे हैं। उनके भाषण यू-ट्यूब पर भी उपलब्ध रहे हैं।

इस प्रकरण ने बताया है कि आतंकवाद से पार पाने के लिए सुरक्षा संबंधी रणनीति और तैयारी काफी नहीं होती। इसके लिए वैचारिक मुहिम भी छेड़नी होगी। मुसलिम समुदाय की नई पीढ़ी को गुमराह करने वाली प्रचार-सामग्री से बचाना और इस्लाम की एक बेहतर समझ से लैस करना इसका एक अनिवार्य हिस्सा होगा।

विवेक सारस्वत, दिल्ली विश्वविद्यालय

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.