ताज़ा खबर
 

छद्म उद्देश्य

समाजवादी पार्टी की उठापटक एक रहस्य-नाटिका है जिसकी पटकथा में मुलायम-शिवपाल से लेकर अखिलेश तक सबकी साझेदारी है।

Author January 3, 2017 12:55 AM
अखिलेश यादव, शिवपाल यादव व सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव।

समाजवादी पार्टी की उठापटक एक रहस्य-नाटिका है जिसकी पटकथा में मुलायम-शिवपाल से लेकर अखिलेश तक सबकी साझेदारी है। जी हां, साझेदारी जो महज दिखावे के लिए मारामारी है! उद्देश्य है अखिलेश यादव को एक पाक-साफ, ईमानदार, विकास-पुरुष के रूप में स्थापित करना- एक ऐसा युवा आदर्शवादी नेता जिसकी राह के रोड़े शिवपाल के नेतृत्व में पले तमाम बाहुबली खुर्राट बने हुए थे! सपा कुशासन की सारी बुराइयां शिवपाल एंड कंपनी के खाते में डाली जानी हैं। जंगल राज हुआ तो इन्हीं के कारण, कानून-व्यवस्था बिगड़ी तो इन्हीं के कारण, प्रदेश का जीडीपी छह से घट कर ऋणात्मक 5.3 फीसद पहुंचा तो इनके कारण! इन लोगों ने विकास-पुरुष अखिलेश को काम करने नहीं दिया!

इस ड्रामे का एक सीधा फायदा यह मिला है कि लोग उत्तर प्रदेश की अराजकता, सपाइयों द्वारा जनता से लूट, अवैध कब्जे, बिजली की अनियमित और सबसे महंगी आपूर्ति, आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस हाईवे, उद्घाटन के बावजूद जिसका काफी हिस्सा बनना बाकी है, जैसी बेहद प्रचारित विकास योजनाओं के ढोल की पोल पर बात करना छोड़कर अखिलेश पर पार्टी के कथित जुल्म की चर्चा पर उतर आए हैं। यही इस प्रहसन का उद्देश्य है। अब बस अखिलेश के खाते में सहानुभूति वोट झड़ जाएं, बाद में कुनबा फिर एक हो ही जाएगा!
’अजय मित्तल, मेरठ

समाजवादी पार्टी में क्‍यों पड़ी दरार? क्‍यों बिगड़े मुलायम-अखिलेश के रिश्‍ते? जानिए हर सवाल का जवाब

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X