scorecardresearch

शक्ति का केंद्र

एक शांतिप्रिय देश है और विश्व में शांति कायम हो, यह भारत की नीति है।

शक्ति का केंद्र
सोमवार, 14 नवंबर, 2022 को जी20 शिखर सम्मेलन में इंडोनेशिया के शहर बाली में भारतीय समुदाय से मिलते प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी। (पीटीआई फोटो)

समूह 20 देशों के संगठन की कमान मिलने के बाद भारत विश्व के सामरिक, व्यावसायिक, पर्यावरण संबंधी अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर एक सर्वग्राही और सर्वस्वीकार्य वैश्विक व्यवस्था बनाने में कामयाब होगा। भारत एक शांतिप्रिय देश है और विश्व में शांति कायम हो, यह भारत की नीति है, इसलिए जी-20 का अध्यक्ष होने के नाते उसकी यह भरसक कोशिश होगी कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सामरिक सीमा के विवादों के कारण युद्ध की स्थिति को किसी भी हालत में रोका जा सके और यूक्रेन-रूस के युद्ध को जितना जल्दी हो सके समाप्त कराया जा सके। विश्व के सबसे शक्तिशाली देशों के साथ सांस्कृतिक आदान-प्रदान और भारत की महान समृद्ध सांस्कृतिक विरासत और पर्यटन के क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत की एक बड़ी भूमिका सुनिश्चित की जा सके।

  • वीरेंद्र कुमार जाटव, दिल्ली

पढें चौपाल (Chopal News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 19-11-2022 at 03:14:24 am
अपडेट