ताज़ा खबर
 

चौपाल: भ्रष्टाचार का खेल

हाल में उत्तर प्रदेश किक्रेट एसोसिएशन के साथ और क्रिकेट संघों में भी चयन प्रक्रिया में अनियमितता की खबरें आई हैं। हालांकि उम्र को लेकर बीसीसीआइ ने सभी राज्य क्रिकेट संघों को एक परामर्श जारी किया है, जिसमें बीसीसीआइ से मान्यता प्राप्त किसी भी टूनार्मेंट में खेलने वाले क्रिकेटर अब आयु व अधिवास (डोमिसाइल) संबंधी फजीर्वाड़ा नहीं कर सकेंगे।

current Test XIक्रिकेट के खेल में भ्रष्टाचार।

राज्य क्रिकेट संघों में परिवारवाद ने जिस तरह से गहरी पैठ बना ली है, उसी वजह से क्रिकेट की चयन प्रक्रिया में भ्रष्टाचार और अनियमितताएं सामने आती रहती हैं। यही कारण है कि ग्रामीण अंचलों के खिलाड़ि?ों, जिनके पास किसी स्तर पर पहुंच और पैसा नहीं हैं, को मौका नहीं मिल पाता और उनकी प्रतिभा नष्ट हो जाती है, चाहे वह कितना भी अच्छा बल्लेबाज या गेंदबाज क्यों न हो। चयन प्रक्रिया में धांधली की शिकायतें सबसे ज्यादा शुरूआती स्तर यानी अंडर 14, 16 और 19 में ही होती हैं।

हाल में उत्तर प्रदेश किक्रेट एसोसिएशन के साथ और क्रिकेट संघों में भी चयन प्रक्रिया में अनियमितता की खबरें आई हैं। हालांकि उम्र को लेकर बीसीसीआइ ने सभी राज्य क्रिकेट संघों को एक परामर्श जारी किया है, जिसमें बीसीसीआइ से मान्यता प्राप्त किसी भी टूनार्मेंट में खेलने वाले क्रिकेटर अब आयु व अधिवास (डोमिसाइल) संबंधी फजीर्वाड़ा नहीं कर सकेंगे। बीसीसीआइ ने इस वर्ष के लिए मानक प्रक्रिया भी जारी कर दी है। ऐसे में अब पंजीकृत खिलाड़ियों को फजीर्वाड़े का दोषी पाए जाने के बाद दो साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया जाएगा।

लेकिन बीसीसीआइ के सामने बड़ी चुनौती राज्य क्रिकेट संघों के भीतर फैले भ्रष्टाचार और चयन प्रक्रिया में धांधली से निपटने की है। अगर फजीर्वाड़े में खिलाड़ी दोषी पाए जाते हैं तो उनके साथ ही क्रिकेट संघों को भी कानून के दायरे में लाया जाना चाहिए। यह किसी से छिपा नहीं है कि क्रिकेट में खिलाड़ियों के चयन में धांधली और भ्रष्टाचार किस हद तक पहुंच चुका है। इसी प्रकार बीसीसीआइ को सूचना के अधिकार के तहत लाने के लिए मौजूदा कानून में बदलाव की दरकार है। सरकार की पहल पर यह काम संसद की मंजूरी से ही हो सकता है। तभी ऐसे बड़े भ्रष्टाचारियों के खिलाफ कार्रवाई संभव हो सकेगी।
’राहुल उपाध्याय, बलिया (उप्र)

किसी भी मुद्दे या लेख पर अपनी राय हमें भेजें। हमारा पता है : ए-8, सेक्टर-7, नोएडा 201301, जिला : गौतमबुद्धनगर, उत्तर प्रदेश
आप चाहें तो अपनी बात ईमेल के जरिए भी हम तक पहुंचा सकते हैं। आइडी है : chaupal.jansatta@expressindia.com

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 चौपाल: रामराज्य का सपना
2 चौपालः जनता की चेतना
3 चौपालः डर के बजाय
ये पढ़ा क्या?
X