chaupal about nawaz sharif acceptance about mumbai attack and circumstances of private hospitals - चौपालः शरीफ का स्वीकार - Jansatta
ताज़ा खबर
 

चौपालः शरीफ का स्वीकार

पनामा पेपर लीक मामले में दोषी पाए गए पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने मुंबई के आतंकी हमले में पाकिस्तान का हाथ होने की बात कबूल की है।

Author May 16, 2018 3:18 AM
नवाज शरीफ

शरीफ का स्वीकार

पनामा पेपर लीक मामले में दोषी पाए गए पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने मुंबई के आतंकी हमले में पाकिस्तान का हाथ होने की बात कबूल की है। भारत यह बात लगातार दोहराता रहा है। इस पर अब नवाज शरीफ ने भी मुहर लगा दी है कि पाकिस्तान न केवल आतंकियों को पालने-पोसने का कार्य करता है बल्कि वक्त-वक्त पर भारत के खिलाफ उन्हें इस्तेमाल करता रहा है। वहीं आतंकवादी हाफिज सईद जैसे लोग मुख्य राजनीति में आने का मौका तलाश रहे हैं जिससे पाक में लोकतंत्र को लेकर खतरा और बढ़ जाएगा।

महेश कुमार, सिद्धमुख, राजस्थान

मुनाफे की सीमा

जब गुरुग्राम के फोर्टिस अस्पताल में डेंगू से पीड़ित एक बच्चे के इलाज का बिल 15 लाख से ऊपर चला गया था तब लोगों को पता चला कि निजी अस्पताल चिकित्सा को सेवा नहीं बल्कि मुनाफा कमाने का जरिया समझते हैं। मुनाफे का प्रतिशत भी सौ या दो सौ नहीं, बल्कि हजार को भी पार कर जाता है। निजी अस्पताल और शिक्षण संस्थाए इसलिए फलफूल रहे हैं क्योंकि सरकारी तंत्र एकदम निष्क्रिय हो चुका है। या कहें जानबूझ कर ऐसा किया जा रहा है। अगर ऐसा नहीं होता तो भला जब दिसंबर में दिल्ली के मैक्स अस्पताल में एक जिंदा बच्चे को मृत घोषित कर दिया गया था और दिल्ली सरकार ने उसका लाइसेंस रद्द कर दिया तो तमाम बड़े नेता एक स्वर में अस्पताल प्रबंधन के बचाव में आ गए थे। अब दिल्ली सरकार निजी अस्पतालों के मुनाफे की सीमा को पचास प्रतिशत तय करने जा रही है लेकिन लगता है कि केंद्र सरकार ऐसा होने नहीं देगी। उपराज्यपाल के माध्यम से उस बिल को भी पक्के तौर पर लौटा दिया जाएगा। यानी सरकारें दावा तो करती हैं कि वे देश के गरीब-गुरबा के साथ हैं मगर असलियत में वे सब धन्ना सेठों की गुलाम हैं।

जंग बहादुर सिंह, गोलपहाड़ी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App