ताज़ा खबर
 

ठगी के संत

पिछले दिनों तथाकथित संत रामपाल के आश्रम में जो कुछ हुआ वह बहुत शर्मनाक है, इससे पहले आसाराम बापू और निर्मल बाबा के कांड हुए, लेकिन न सरकार जागी और न ही जनता। निर्मल बाबा फिर आ गए। एक दिन ऐसे ही आसाराम और रामपाल भी आ जाएंगे, अगर कानून का सख्ती से पालन नहीं […]

Author November 22, 2014 10:18 AM

पिछले दिनों तथाकथित संत रामपाल के आश्रम में जो कुछ हुआ वह बहुत शर्मनाक है, इससे पहले आसाराम बापू और निर्मल बाबा के कांड हुए, लेकिन न सरकार जागी और न ही जनता। निर्मल बाबा फिर आ गए। एक दिन ऐसे ही आसाराम और रामपाल भी आ जाएंगे, अगर कानून का सख्ती से पालन नहीं हुआ तो और परेशान अंधविश्वासी जनमानस नहीं जागा तो। आज टीवी चैनलों पर हर धर्म के लोगों को धोखा देने वाले अपनी दुकाने खूब चला रहे हैं और सरकारें तब जाग रही हैं जब कोई कांड हो जाता है। अगर वास्तव में सरकार इस समस्या के स्थायी समाधान के प्रति गंभीर है तो हर एक राज्य में सर्वदलीय और सर्वधर्म समितियों का गठन करके एक-एक धार्मिक स्थल की पूरी जांच कराए और फिर उनको प्रमाण पत्र जारी करे, अन्यथा किसी अगले रामपाल या आसाराम का इंतजार!

’यश वीर आर्य, दिल्ली

 

 

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करें- https://www.facebook.com/Jansatta

ट्विटर पेज पर फॉलो करने के लिए क्लिक करें- https://twitter.com/Jansatta

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App