ताज़ा खबर
 

चौपाल

चौपाल: स्वदेशी से समाधान

स्वदेशीकरण की दिशा में आगे बढ़ने के लिए सरकार और समाज को निचले स्तर से प्रयास करने की जरूरत है, तभी यह क्रांति ऊपर...

चौपाल: स्वच्छता की खातिर

केंद्र सरकार की कोशिश है कि 2019 तक देश के सभी राज्य खुले में शौच से मुक्त हो जाएं। यह लक्ष्य सरकार, सरकारी व्यवस्था...

चौपाल: उपेक्षा की टीस

कश्मीरी पंडित समुदाय ने चौदह सितंबर को देश-विदेश में बलिदान-दिवस मनाया। जगह-जगह उसकी बीसियों प्रमुख सामाजिक, राजनीतिक, सांस्कृतिक और साहित्यिक संस्थाओं ने जनसभाएं आयोजित...

चौपाल: आरक्षण में सुधार

एससी/एसटी का पांच फीसद संपन्न वर्ग, शेष पंचानवे फीसद कमजोर और वंचित वर्ग का हिस्सा खा रहा है। इस पांच फीसद वर्ग की दलील...

संपादकीयः जागने की जरूरत

खबरिया चैनलों के अनुसार दिल्ली के रोहिणी इलाके में रहने वाला कथित ठग बाबा आशु भाई हिंदू न होकर मुसलमान है और ठगी के...

चौपालः न्याय की छतरी

हाल ही में संपन्न हुए जेएनयू छात्र संघ के चुनावों में ‘सवर्ण छात्र मोर्चे’ की उम्मीदवार के तौर पर कुमारी निधि मिश्रा ने चुनाव...

चौपालः वैकल्पिक ऊर्जा

पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतें हम सभी को परेशान कर रही हैं। जहां एक तरफ गाड़ी चलाना महंगा साबित होता जा रहा है...

चौपालः गरीबी के विरुद्ध

गरीबी एक प्रमुख वैश्विक समस्या है जिससे आज अधिकतर देश जूझ रहे हैं। गरीबी का मतलब है गरीबी रेखा से नीचे जीवन जीना। किसी...

चौपालः कैसे महिला हितैषी

देश में भले ही हर तरफ महिलाओं को आगे लाने, उन्हें प्राथमिकता देने की बात होती है लेकिन जब उनके अधिकारों पर कानूनी मोहर...

चौपालः गिरावट की मुद्रा

भारतीय मुद्रा (रुपए) में लगातार होती गिरावट के बाद अमेरिकी डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपया उच्चतम स्तर पर पहुंच गया था। अमेरिकी डॉलर के...

चौपालः बड़ी जीत

सुप्रीम कोर्ट ने अपने एक ऐतिहासिक फैसले में समलैंगिक संबंधों को अपराध मानने वाली धारा 377 को अतार्किक और मनमानी बताते हुए खत्म कर...

चौपालः हमारी भाषा

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने कहा था कि ‘राष्ट्रभाषा के बिना राष्ट्र गूंगा है’। इंदौर में 1918 में आयोजित हिंदी साहित्य सम्मेलन में उन्होंने हिंदी...

चौपाल: आस्था के शिकारी

आज एक के बाद एक बाबा कठघरे में खड़े हैं और जेल की हवा खा रहे हैं। इसके बाद भी लोग इन फरेबी/ पाखंडियों...

चौपाल: हार का सबक

इंग्लैंड दौरे पर भारतीय टीम को तीन मैचों की एकदिवसीय शृंखला, तीन मैचों की 20-20 शृंखला और पांच मैचों की टैस्ट शृंखला खेलनी थी।...

चौपाल: हिंदी के साथ

Hindi Diwas 2018: उनहत्तर वर्ष बीतने और ग्यारह विश्व हिंदी सम्मलेन आयोजित करने के बावजूद आज भी देश की राजभाषा के रूप में...

चौपाल: औचित्य की कसौटी

निस्संदेह देश में पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार वृद्धि हो रही है, जोचिंताजनक है। इसका विरोध होना चाहिए, लेकिेन साथ ही इस विरोध को...

चौपालः गंगा मैली

गंगा जिस भी चीज के कारण प्रदूषित हो रही है, उसे गंगा से दूर रखा जाए। यदि मान्यताएं और परंपराएं भी गंगा को दूषित...

चौपालः जमीनी हकीकत

हमारे देश की अर्थव्यवस्था में पिछले कुछ अरसे से जिस प्रकार की उथल-पुथल देखने को मिली है वह काफी चिंताजनक है।