चौपाल Archives - Jansatta
ताज़ा खबर
 

चौपाल

चौपाल: सौहार्द के सूत्रधार

कश्मीर मुद्दे को भी वाजपेयीजी कश्मीरियत, जम्हूरियत और इंसानियत के आधार पर हल करने के पक्षधर थे। राजनीति के बजाय ‘राष्ट्रनीति’ में अटूट विश्वास...

चौपाल: अजातशत्रु

वे अपनी बात राजनीतिक स्वार्थ से ऊपर उठ कर निस्पृह होकर सदा आम जन और देशहित में रखते थे। इसीलिए उनकी बातें सीधे दिल...

चौपाल: प्रकृति के प्रति

कुछ स्वयंसेवी संगठन (एनजीओ) इसे केवल अपने प्रचार का माध्यम बनाने में लगे हैं। आखिर हम क्यों नहीं समझ पा रहे वृक्षों के महत्त्व...

चौपाल: पीछे की ओर

अगले साल होने वाले आम चुनाव में विपक्षी पार्टियां ‘ईवीएम मशीन’ को बदल कर फिर से मतपत्र के जरिए चुनाव कराने की मांग कर...

चौपालः आजादी के मायने

हमने स्वतंत्रता दिवस तो धूमधाम से मना लिया लेकिन क्या कभी जानने का प्रयास किया कि उस स्वतंत्रता को बरकरार रखने का मंत्र देने...

चौपालः हमारी गुलामी

स्वतंत्रता दिवस की 72 वीं वर्षगांठ की तैयारी के लिए जिले के आला अधिकारियों और गणमान्य व्यक्तियों की बैठक हुई। उसका लिखित ब्योरा मेज...

चौपालः साझा मुहिम

राजनीतिक पार्टियों को चुनावी लाभ-हानि के गणित से बाहर निकल कर स्वच्छ छवि वाले ईमानदार नेताओं को टिकट देना चाहिए।

चौपालः कैसी स्वतंत्रता

हम आजादी के बहत्तरवें वर्ष में प्रवेश कर रहे हैं लेकिन पीछे मुड़ कर देखने पर कई ऐसी तस्वीरें उभर कर आती हैं जो...

चौपालः ढहते पुल, पिछड़ा कौन और तुलना के बजाय

जिसे हम विकास कह रहे हैं उसके दुष्परिणाम से सभी लोग भलीभांति परिचित हैं और उसके बचाव के लिए तमाम प्रयास किए जा रहे...

चौपालः न्याय का तकाजा

देश की सम्मानित न्यायपालिका के विभिन्न स्तरों और शाखाओं द्वारा पारित आदेश अथवा जारी किए गए दिशा-निर्देश संबंधित व्यक्ति या व्यक्तियों अथवा संस्थाओं द्वारा...

चौपालः रेत के आशियाने

लोग राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में ‘एक अदद अपना आशियाना हो जाए’ जैसी उम्मीद में जीवन भर की कमाई लगा कर या गांव का खेत...

चौपालः बदलाव की सीख

सोनम वांगचुक स्थानीय छात्रों के एक समूह द्वारा 1988 में स्थापित स्टूडेंट्स एजुकेशनल एंड कल्चरल मूवमेंट ऑफ लद्दाख (एसईसीओएमएल) के संस्थापक-निदेशक भी हैं।

चौपाल: खाद्य अखाद्य

यह सरकार की जिम्मेदारी है कि बाजार में स्वच्छ और स्वास्थ्यकर खाद्य पदार्थ न केवल दिखें बल्कि बिकें भी। इसके लिए सरकार में विभाग...

चौपाल: वृक्षों की बलि

हिमालय के घने प्राकृतिक जंगलों में हर मौसम में खुली रहने वाली इन चौड़ी सड़कों पर जब दिन-रात मुंबई और दिल्ली की तर्ज पर...

चौपाल: इंसानियत का तकाजा

सड़क हादसों में घायल बहुत सारे लोग सही समय पर उचित उपचार न मिलने कारण दम तोड़ देते हैं। कुछ लोग दुर्घटना के शिकार...

चौपाल: करिश्माई नेता

जयललिता के बाद करुणानिधि जैसे करिश्माई नेता के जाने के बाद तमिलनाडु की राजनीति थोड़ी खाली नजर आ रही है, क्योंकि आज के समय...

चौपालः आरक्षण का आधार

देश भर में आरक्षण के लिए नियमित अंतराल पर जातिगत आंदोलन हो रहे हैं। इसके मद्देनजर पूरी आरक्षण प्रणाली पर अब नई तरह से...

चौपालः बेटियों की सुध

प्रधानमंत्री ने रेडियो पर ‘मन की बात’ कार्यक्रम में लालकिले की प्राचीर से स्वतंत्रता दिवस पर भाषण के लिए जनता से सुझाव मांगे हैं।