ताज़ा खबर
 

1 जुलाई से आपका पैन कार्ड हो सकता है रिजेक्ट, जानें क्यों

पैन कार्ड और आधार कार्ड में दी गई आपकी डीटेल अलग हैं, तो आप पैन कार्ड अथवा आधार कार्ड में बदलाव के लिए आवेदन कर सकते हैं।

आधार नंबर को पैन कार्ड से लिंक करने में उन लोगों को मुसीबत का सामना करना पड़ रहा है जिनके नाम की स्पेलिंग पेन कार्ड और आधार कार्ड में अलग-अलग है। (Photo: financial express )

केंद्र सरकार ने 1 जुलाई 2017 तक पैन कार्ड को आधार नंबर से लिंक कराने का आदेश दिया है। यदि 1 जुलाई तक आधार कार्ड और पैन कार्ड को लिंक नहीं कराया तो पैनकार्ड रिजेक्ट किया जा सकता है। ऐसी स्थिति में आप मौजूदा वित्त वर्ष में इनकम टैक्स रिटर्न नहीं भर सकते क्योंकि टैक्स रिटर्न भरने के लिए पैनकार्ड और आधार नंबर को अनिवार्य किया जा चुका है। आधार नंबर को पैन कार्ड से लिंक करने में उन लोगों को मुसीबत का सामना करना पड़ रहा है जिनके नाम की स्पेलिंग पेन कार्ड और आधार कार्ड में अलग-अलग है। यह भी संभव है कि बैंक अकाउंट में नाम की स्पेलिंग कुछ और दी गई है और आधार में कुछ और दी गई है। ऐसी स्थिति में भी पैन कार्ड और आधार को लिंक कराने में दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है। इनकम टैक्स नियम के मुताबिक एनआरआई को देश में टैक्स रिटर्न भरते समय आधार की पाबंदी नहीं होगी।

कैसे सुधारें: पैन कार्ड, आधार कार्ड और बैंक अकाउंट में दी गई आपकी डीटेल अलग हैं तो आप अपने पैन कार्ड अथवा आधार कार्ड में बदलाव के लिए आवेदन कर सकते हैं। पैन कार्ड में सुधार के लिए आवेदन इनकम टैक्स डिपार्टेमेंट की वेबसाइट पर कर सकते हैं। वहीं आपको आधार में सुधार कराना है तो आधार केंद्र पर जाकर सुधार करा सकते हैं या ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते हैं।

मौजूदा समय में देश में 24.37 करोड़ से अधिक पैन कार्ड हैं और 113 करोड़ से ज्यादा लोगों का आधार कार्ड बनाया जा चुका है। इनमें से महज 2.87 करोड़ लोगों ने 2012-13 के दौरान टैक्स रिटर्न जमा किया था। इन 2.87 करोड़ लोगों में 1.62 करोड़ लोगों ने टैक्स रिटर्न दाखिल तो किया लेकिन टैक्स में एक भी रुपये का भुगतान नहीं किया। ऐसा इसलिए कि बड़ी संख्या में लोग टैक्स चोरी करते हैं या टैक्स देने से बच जाते हैं। लिहाजा, देश में टैक्स कलेक्शन को बढ़ाने के लिए इनकम टैक्स विभाग ने रिटर्न दाखिल करने के लिए पैन कार्ड को आधार से लिंक कराना अनिवार्य कर दिया है। इस लिंकिंग के बाद टैक्स चोरी को रोकना आसान हो जाएगा। पिछले कुछ हफ्तों से पैन कार्ड (पर्मानेंट अकाउंट नंबर) में दर्ज नाम को सुधारने के लिए हो रहे आवेदन में बढ़ोतरी हुई है।

चंद मिनटों में बनेगा अब पैन कार्ड; ऐप के जरिए भर सकेंगे इनकम टैक्स, देखें वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App