ताज़ा खबर
 

रिलायंस को क्यों दी राहत?

आप का आरोप है कि दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने रिलायंस समूह की कंपनी फाइन टेक निगम प्राइवेट लिमिटेड से 84 लाख रुपए की रिटेनरशिप फीस ली। आरोप है कि फीस राहत देने के बदले में ली गई। रविशंकर प्रसाद ने इस साल 26 मई से लेकर दस नवंबर तक दूरसंचार के अलावा विधि मंत्रालय […]

रिलांयस समूह ने कहा ‘‘रिलायंस पावर के सिर्फ एक कर्मचारी के काम-काज की जगह की तलाशी ली गई है और किसी तरह की संदिग्ध जानकारी नहीं मिली।

आप का आरोप है कि दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने रिलायंस समूह की कंपनी फाइन टेक निगम प्राइवेट लिमिटेड से 84 लाख रुपए की रिटेनरशिप फीस ली। आरोप है कि फीस राहत देने के बदले में ली गई।

रविशंकर प्रसाद ने इस साल 26 मई से लेकर दस नवंबर तक दूरसंचार के अलावा विधि मंत्रालय का भी कार्यभार संभाला है। फाइन टेक रिलायंस समूह की एक कंपनी है।

इसके तीन निदेशक हैं। तीनों रिलायंस समूह की विभिन्न अन्य कंपनियों में भी निदेशक हैं।

चार मामले में रिलायंस की ओर से बरती गई अनियमितता को लेकर कई सवाल उठाए गए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App