ताज़ा खबर
 

हेल्थ और लाइफ इंश्योरेंस के अलावा यहां निवेश करके भी बचा सकते हैं टैक्स, कमा सकते हैं पैसा

धारा 80D के तहत, आपको अपनी, पत्नी और बच्चे की तरफ से टैक्स कटौती में साल में 25,000 रुपए तक का दावा करने की अनुमति है। आप अपने माता-पिता के लिए हेल्थ इंश्योरेंस खरीदकर और 25,000 रुपए बचा सकते हैं।
ईएलएसएस निवेश को सबसे ज्यादा आकर्षक बनाने वाला कारक यह है कि आपका निवेश 100% टैक्स फ्री होता है।

आदिल शेट्टी

नया साल शुरू हो गया है। टैक्स भरने का भी समय नजदीक आता जा रहा है, तो टैक्स-प्लानिंग का भी समय है – इस समय लाखों भारतीय, टैक्स बचाने वाले साधनों में निवेश करते हैं और इंश्योरेंस खरीदते हैं। इस समय आप अपने फाइनैंशल पोर्टफोलियो में ऐसे-ऐसे स्टॉक को शामिल कर सकते हैं जिन्हें आपने अभी तक शामिल नहीं किया है। इंश्योरेंस और निवेश के साधनों को ढूंढने में आपकी मदद करने के लिए यहां कुछ सुझाव दिए गए हैं।

लाइफ इंश्योरेंस, आपकी आमदनी का 10 गुना होना चाहिए
लाइफ इंश्योरेंस, टैक्स बचाने वाले सबसे ज्यादा लोकप्रिय साधनों में से एक है। यदि आप पहली बार लाइफ इंश्योरेंस खरीद रहे हैं तो सबसे पहले एक टर्म प्लान खरीदें। इससे आपको कम प्रीमियम लागत पर अपनी वर्तमान सालाना आमदनी का 10-20 गुना लाइफ कवर वाला इंश्योरेंस खरीदने में मदद मिलती है। उदाहरण के लिए, साल में 5 लाख रुपए कमाने वाले और तम्बाकू का सेवन न करने वाले एक 30 साल के वेतनभोगी पुरुष को 1 करोड़ रुपए का टर्म लाइफ इंश्योरेंस खरीदना चाहिए जिसका प्रीमियम लगभग 6,500 रुपए से शुरू होगा। इस तरह का कवरेज लेने से आपकी आय पर निर्भर रहने वाले आपके परिवार के लोगों की पर्याप्त ढंग से रक्षा हो पाएगी। आपको अन्य प्रकार के निवेश से जुड़े इंश्योरेंस प्लान खरीदने की जरूरत नहीं पड़ेगी जहां प्रीमियम अधिक देना पड़ता है और लाइफ कवर कम मिलता है।

इक्विटी लिंक्ड सेविंग्स स्कीम्स (ELSS)
इक्विटी लिंक्ड सेविंग्स स्कीम्स (ईएलएसएस), म्यूचुअल फंड स्कीम्स हैं। ईएलएसएस का लॉक-इन पीरियड बाकी सभी टैक्स सेवर विकल्पों के लॉक-इन पीरियड की तुलना में सबसे कम है – सिर्फ तीन साल। यह एंडोमेंट प्लान, यूलिप, पीपीएफ, और नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट जैसे विकल्पों की तुलना में काफी फायदेमंद है, क्योंकि इन सबका टाइम पीरियड इससे काफी लंबा होता है। ईएलएसएस आपको काफी हद तक ज्यादा रिटर्न भी दे सकता है। सीआरआईएसआईएल एएमएफआई ईएलएसएस फंड परफॉर्मेंस इंडेक्स के अनुसार, इस श्रेणी के फंड का सीएजीआर, पिछले तीन साल में 12.10%, पांच साल में 22.79% और 10 साल में 10.56% है। इस तरह यह वर्तमान में 7.8% और 8% रिटर्न देने वाले पीपीएफ या एनएससी की तुलना में ज्यादा फायदेमंद इनवेस्टमेंट ऑप्शन है।

ईएलएसएस निवेश को सबसे ज्यादा आकर्षक बनाने वाला कारक यह है कि आपका निवेश 100% टैक्स फ्री होता है। यदि आप एक बार में ईएलएसएस में निवेश करके टैक्स बचाना चाहते हैं तो आप अपनी जरूरत के हिसाब से एक एकमुश्त निवेश कर सकते हैं। अप्रैल से, आप अपने निवेश को 12 महीने में विभाजित करने के लिए एक एसआईपी शुरू कर सकते हैं और जनवरी फरवरी महीने में निवेश करने के झंझट से बच सकते हैं। ज्यादातर म्यूचुअल फंड्स में आप महीने में कम से कम 500 रुपए डालकर निवेश करना शुरू कर सकते हैं।

हेल्थ इंश्योरेंस को नजरअंदाज न करें
हेल्थ इंश्योरेंस सिर्फ एक टैक्स बचाने वाला साधन ही नहीं है। यह एक जरूरत भी है। यदि आपने अभी तक कोई हेल्थ इंश्योरेंस नहीं लिया है तो आप जोखिम उठा रहे हैं। आप एक बेसिक हेल्थ इंश्योरेंस प्लान लेकर आसानी से अपना पैसा बचा सकते हैं। यदि आप 30 साल के हैं और तम्बाकू चबाने की आदत नहीं है तो साल में सिर्फ 4726 रुपए खर्च करने पर आपको 4.5 लाख रुपए का कवरेज मिल जाएगा। अपने मन की शांति के लिए यह एक बहुत छोटी रकम है। धारा 80D के तहत, आपको अपनी, पत्नी और बच्चे की तरफ से टैक्स कटौती में साल में 25,000 रुपए तक का दावा करने की अनुमति है। आप अपने माता-पिता के लिए हेल्थ इंश्योरेंस खरीदकर और 25,000 रुपए बचा सकते हैं। वरिष्ठ नागरिकों के मामले में यह सीमा बढ़कर 30,000 रुपए हो जाती है।

सिर्फ टैक्स ही न बचाएं, पैसे भी बनाएं
अपना टैक्स बचने के साथ-साथ टैक्स बचाने वाले साधनों की पैसे बनाने की क्षमता का भी जायजा लेने की जरूरत है। मान लीजिए, आप 5,00,000 रुपए कमाते हैं। इस साल कटौती से पहले आपकी टैक्सेबल आय होगी, 13,000 रुपए। उपरोक्त उदाहरण का इस्तेमाल करके, आप 6500 रुपए में एक टर्म प्लान खरीदकर, 4800 रुपए में एक हेल्थ प्लान लेकर, और बाकी पैसे को एक 5 स्टार ईएलएसएस फंड में निवेश करके अपना टैक्स बचाने का काम पूरा कर सकते हैं, लेकिन अभी भी आपको अपने भविष्य के सपने और जरूरत को पूरा करने के लिए कुछ पैसे बनाने की जरूरत पड़ेगी।

मान लीजिए आप अपनी आय का 20 फीसदी बचा रहे हैं, जो कि 1 लाख रुपए है। आपने टैक्स बचाने वाले साधनों में लगभग 15,000 रुपए निवेश किए हैं। शेष 85,000 रुपए का निवेश आप पैसे बनाने के लिए कर सकते हैं। पांच साल के म्यूचुअल फंड में एक मासिक एसआईपी में निवेश करने पर विचार करें जिसमें आपको 15 फीसदी सीएजीआर मिल सकता है। सिर्फ 10 साल में इस एसआईपी की मदद से 20 लाख रुपए या 20 साल में 1.1 करोड़ रुपए बना सकते हैं।
लेखक बैंक बाजार डॉट कॉम के सीईओ हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.