ताज़ा खबर
 

NGO ने दुनिया के नेताओं से कहा, भय-विभाजन की राजनीति को ख़ारिज करें

दुनिया में अभियान चलाने वाले छह प्रमुख समूहों ने यहां विश्व आर्थिक मंच की बैठक के मौके पर संयुक्त घोषणा में यह बात कही है।

Author दावोस | January 17, 2017 4:12 PM
दावोस में आयोजित विश्व आर्थिक मंच की वार्षिक बैठक को संबोधित करते चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग। (REUTERS/Ruben Sprich/17 ऱोल 2017)

अमेरिका में डोनाल्ड ट्रंप की ताजपोशी से कुछ दिन पहले यहां गैर-सरकारी संस्थानों (एनजीओ) के एक समूह ने दुनिया के नेताओं से डर और अलगाव की राजनीति को खारिज करने का आह्वान किया। दुनिया में अभियान चलाने वाले छह प्रमुख समूहों ने यहां विश्व आर्थिक मंच की बैठक के मौके पर संयुक्त घोषणा में यह बात कही है। अमनेस्टी इंटरनेशनल के महासचिव सलिल शेट्टी, आवाज के कार्यकारी निदेशक रिकेन पटेल ने कहा कि यहां दावोस में जुटे दुनिया के राजनीतिज्ञों और कारोबारी नेताओं को ‘डर, विभाजन और दोषारोपण की भाषा की निंदा करनी चाहिए और यह काम तत्काल व अत्यावश्यक कार्य रूप से किया जाना चहिए और उन्हें स्वयं को फिर से मुक्त, न्यायपूर्ण, स्वस्थ और समानता की दुनिया बनाने के लिए अपने को समर्पित करना चाहिए।’

गैर-सरकारी संस्थानों ने यह घोषणा ऐसे समय की है जबकि अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति ट्रंप की ताजपोशी होने में कुछ ही दिन रह गये हैं। इस घोषणापत्र में ग्रीनप्रीस इंटरनेशनल, इंटरनेशनल ट्रेड यूनियन कान्फेडरेशन, ऑक्सफैम इंटरनेशनल और ट्रांसपेंरेंसी इंटरनेशनल के नेताओं ने भी हस्ताक्षर किये हैं। घोषणा में कहा गया है, ‘दुनिया के नेताओं जो मानवाधिकारों का सम्मान नहीं करते हैं, को हमारा संदेश है कि हमारा संगठन और इससे जुड़े लाखों लोग जो हमारे पीछे खड़े हैं, मानवाधिकार और सामाजिक न्याय के लिये जारी हमारा अभियान सभी आप पर नजर रखे हुये है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App