ताज़ा खबर
 

शी जिनपिंग ने वैश्वीकरण को बताया ‘दोधारी तलवार’, उदीयमान अर्थव्यवस्थाओं के लिए बड़ी भूमिका पर जोर

शी जिनपिंग ने कहा कि दुनिया के सामने इस समय आतंकवाद व शरणार्थी जैसे बड़े मुद्दे हैं और अनेक लोग हैरान हैं कि दुनिया में कहां गड़बड़ी हुई है।

Author दावोस | January 17, 2017 8:59 PM
दावोस में आयोजित विश्व आर्थिक मंच की वार्षिक बैठक को संबोधित करते चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग। (REUTERS/Ruben Sprich/17 ऱोल 2017)

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने मंगलवार (17 जनवरी) को कहा कि वैश्वीकरण दोधारी तलवार है लेकिन इसे दुनिया की मौजूदा समस्याओं का जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता। इसके साथ ही शी ने वैश्विक संस्थानों के संचालन में उदीयमान अर्थव्यवस्थाओं के लिए बड़ी भूमिका का आह्वान किया। वे स्विटजरलैंड के इस कस्बे में विश्व आर्थिक मंच के सालाना सम्मेलन के उद्घाटन कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कुछ लोग समस्याओं के लिए आर्थिक वैश्वीकरण को जिम्मेदार ठहराते हैं लेकिन दुनिया के सामने मौजूदा अनेक मुद्दों की वजह यह नहीं है।

वैश्वीकरण के योगदान को रेखांकित करते हुए शी ने कहा कि उसने वृद्धि को बल दिया है और दुनिया भर में सामान व सेवाओं की आवाजाही को सुगम बनाया है। हालांकि यह भी सही है कि ‘आर्थिक वैश्वीकरण दोधारी तलवार’ है। उन्होंने कहा कि दुनिया के सामने इस समय आतंकवाद व शरणार्थी जैसे बड़े मुद्दे हैं और अनेक लोग हैरान हैं कि दुनिया में कहां गड़बड़ी हुई है। जवाव पाने व समाधान खोजने के लिए हमें समस्या को समझना होगा। शी ने कहा कि शरणार्थी समस्या की वजह तो वैश्वीकरण नहीं है बल्कि युद्ध, संघर्ष व क्षेत्रीय दिक्कतों के कारण यह समस्या पैदा होती है और इसका समाधान यही है कि शांति बहाल की जाए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App