scorecardresearch

Warren Buffett’s BIG loss: दुनिया के सबसे बड़े निवेशक को हुआ 44 बिलियन डॉलर का नुकसान, जानिए कारण

Warren Buffett’s BIG loss: बर्कशायर हैथवे की शीर्ष होल्डिंग में एप्पल, बैंक ऑफ अमेरिका और अमेरिकन एक्सप्रेस जैसे शेयर शामिल हैं, जिसमें अप्रैल- जून के बीच 21 फीसदी तक की बड़ी गिरावट आई है।

Warren Buffett’s BIG loss: दुनिया के सबसे बड़े निवेशक को हुआ 44 बिलियन डॉलर का नुकसान, जानिए कारण
Warren Buffett’s BIG loss: वारेन बफेट (Photo: Reuters)

Warren Buffett’s BIG loss: दुनिया के सबसे बड़े निवेशक वारेन बफेट की कंपनी बर्कशायर हैथवे ने दूसरी तिमाही में 43.8 बिलियन डॉलर का नुकसान दर्ज किया है। इसके पीछे का बड़ा कारण कंपनी की शीर्ष होल्डिंग्स के शेयर की कीमतों में गिरावट है। कंपनी की ओर से नुकसान दर्ज करने को लेकर बफेट ने कहा कि इस तिमाही में कंपनी के द्वारा किए गए निवेश की वैल्यू में 53 बिलियन डॉलर की गिरावट आई है।

हालांकि, बर्कशायर हैथवे शेयर बाजार में आई गिरावट का फायदा उठाने के लिए निचले स्तर पर कई शेयरों में निवेश कर रही है। बर्कशायर हैथवे के कुल नुकसान को शेयरों में बांटा जाए, तो कंपनी के प्रत्येक क्लास ए के शेयरधारक को 29,754 डॉलर प्रति शेयर का घाटा हुआ है। बता दें, बड़े नुकसान के बावजूद भी बर्कशायर हैथवे 9.3 बिलियन डॉलर का ऑपरेटिंग मुनाफा दर्ज किया है।

बर्कशायर हैथवे की शीर्ष होल्डिंग में एप्पल, बैंक ऑफ अमेरिका और अमेरिकन एक्सप्रेस जैसे शेयर शामिल हैं, जिसमें अप्रैल- जून के बीच 21 फीसदी तक की बड़ी गिरावट आई है। वहीं, इस दौरान अमेरिका के मुख्य सूचकांक एस&पी 500 में 16 फीसदी की बड़ी गिरावट आई है। हालांकि, तीसरी तिमाही में बर्कशायर हैथवे के कुछ शेयरों में तेजी देखी जा रही है। कंपनी के पास मौजूदा समय में पोर्टफोलियो में 90 से अधिक कंपनियां हैं।

कंपनी ने कहा कि नए कोविड-19 के वैरिएंट और रूस-यूक्रेन युद्ध के दौरान दुनिया भर में सप्लाई चैन में बाधा आई है, जिससे कंपनियों की लागत में इजाफा हुआ है। कंपनी को नुकसान वास्तविक नहीं हुआ है।  

बर्कशायर हैथवे के नतीजों में मुताबिक कंपनी की शेयर खरीदारी पहली तिमाही में 51.1 बिलियन डॉलर थी, जो दूसरी तिमाही में घटकर 6.15 बिलियन डॉलर रह गई है। इस दौरान कंपनी ने शेवरॉन कॉर्प और ऑक्सिडेंटल पेट्रोलियम कार्पोरेशन में प्रमुख हिस्सेदारी ली है। बर्कशायर को उम्मीद है कि बीमा कंपनी एलेघनी कॉर्प का 11.6 अरब डॉलर का अधिग्रहण चौथी तिमाही तक पूरा हो जाएगा।  कंपनी के बाद पहली तिमाही में 106 बिलियन डॉलर का नकद था, जो अब घटकर 105.4 बिलियन डॉलर रह गया है।

पढें व्यापार (Business News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट