ताज़ा खबर
 

अमीर बनना चाहते हैं तो बड़े काम की हैं ये पांच बातें, जरूर करेंगी आपकी मदद

पर्याप्त इमरजेंसी फंड नहीं रखने पर लोग अक्सर पैसे की तंगी होने पर कर्ज के जाल में फंस जाते हैं। आपके पास इमरजेंसी फंड न होने पर आपकी निवेश योजना में भी रुकावट आ सकती है।

समय पर कर्ज का भुगतान करना बहुत जरूरी है ताकि आपका क्रेडिट स्कोर हमेशा अच्छा रह सके और आपकी उधार लेने की क्षमता हमेशा अधिक बनी रहे।

आदिल शेट्टी

हर इंसान अमीर और कामयाब बनना चाहता है। इसके लिए सही समय और दिशा की जरूरत होती है। एक किराए के मकान में रहते समय बहुत अधिक खर्च वाले सैर-सपाटे पर जाने की योजना बनाने से आपको आगे चलकर कोई मदद नहीं मिलेगी। सैर-सपाटे के लिए रखे गए पैसे का इस्तेमाल अपना खुद का एक मकान खरीदने के लिए करना ज्यादा बेहतर होगा, इससे आपका मासिक किराया भी बचेगा। इसलिए आपको अपने फाइनैंशल टारगेट्स को प्राथमिकता देने पर ध्यान देना चाहिए। आज हम आपको ऐसे ही 5 टागरेट्स के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपको अमीर बनाने में आपकी मदद कर सकते हैं।

एक इमरजेंसी फंड तैयार करें
पैसे की तंगी होने पर लोग अक्सर कर्ज के जाल में फंस जाते हैं, यदि वे अपने पास एक पर्याप्त इमरजेंसी फंड नहीं रखते हैं। उदाहरण के लिए, आपकी नौकरी छूट जाती है और आप 4 महीने के लिए बेरोजगार हो जाते हैं। अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए आप बैंक से पैसे उधार लेते हैं और अपना क्रेडिट कार्ड भी इस्तेमाल कर लेते हैं। यदि आपके पास एक पर्याप्त इमरजेंसी फंड होता तो आप इस तरह की परिस्थिति से बच गए होते। आपके पास इमरजेंसी फंड न होने पर आपकी निवेश योजना में भी रुकावट आ सकती है। इसी तरह, आपको इंश्योरेंस खरीदकर अपने स्वास्थ्य, जीवन इत्यादि से जुड़े जोखिम को कम करना चाहिए।

रिटायरमेंट के टारगेट को देखें
रिटायरमेंट के टारगेट से समझौता नहीं करना चाहिए। यदि आपके रिटायरमेंट टारगेट पर आपके किसी वर्तमान आर्थिक निर्णय का कोई नकारात्मक प्रभाव पड़ता है, तो आपको सुधार के लिए कदम उठाना चाहिए। इससे आप प्लान के मुताबिक अपने उद्देश्यों को पूरा कर सकें। इसलिए, आपका अल्पकालिक, मध्यकालिक और दीर्घकालिक उद्देश्य, आपके रिटायरमेंट टारगेट के इर्दगिर्द घूमना चाहिए। रिटायरमेंट के बाद आपको नियमित व्यवसाय या नौकरी वाली आय नहीं होगी, इसलिए एक वित्तीय योजना से यह सुनिश्चित होगा कि आप पैसे की तकलीफ के बिना एक सामान्य जिंदगी जी सकते हैं।

अपने कर्ज का ख्याल रखें
कर्ज आपके फाइनेंशल टारगेट का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। यह घर खरीदने, कार खरीदने, एजुकेशन लोन लेकर बच्चों की आगे की पढ़ाई इत्यादि जैसे बड़े टारगेट्स को पूरा करने के लिए अपनी आर्थिक मदद करता है। आपको अपने कर्ज ऑप्शन का इस्तेमाल, सही समय पर और सही उद्देश्य के लिए करना चाहिए। अपने कर्ज की योजना काफी पहले से ही बनाकर रखें और अपने अन्य फाइनैंशल टारगेट्स पर ऐसे कर्ज के प्रभाव की जांच करें। समय पर कर्ज का भुगतान करना बहुत जरूरी है ताकि आपका क्रेडिट स्कोर हमेशा अच्छा रह सके और आपकी उधार लेने की क्षमता हमेशा अधिक बनी रहे।

अपनी जिम्मेदारियों को पूरा करें
अपने रिटायरमेंट टारगेट के साथ-साथ बच्चों की पढ़ाई-लिखाई, घर खरीदने, बच्चों की शादी जैसी जिम्मेदारियों और अन्य पारिवारिक जिम्मेदारियों को पूरा करने पर ध्यान देना चाहिए। अपनी महत्वपूर्ण जिम्मेदारियों को पूरा करने पर विचार करते समय आपको अपने रिटायरमेंट टारगेट को पूरा करने पर भी ध्यान देना चाहिए। अपनी अल्पकालिक और दीर्घकालिक जिम्मेदारियों को पूरा करने के लिए निवेश करें और पर्याप्त फंड तैयार करें।

अपनी इच्छाएं पूरी करें
आर्थिक लक्ष्यों को पूरा करने के चक्कर में, आपको अपनी इच्छाओं को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। रिटायरमेंट, जिम्मेदारियों, इमरजेंसी फंड और कर्ज चुकाने के लिए पैसे अलग रखने के बाद, आपको लंबी छुट्टी पर जाने, महंगी चीजें खरीदने, जैसी अपनी इच्छाओं को भी पूरा करना चाहिए। आपके अधिकांश आर्थिक लक्ष्य एक दूसरे से जुड़े होते हैं। इसलिए, इस तरह के लक्ष्यों को प्राथमिकता देते समय, आपको किसी लक्ष्य को न प्राप्त करने के समय और परिणाम का ख्याल रखना चाहिए।
लेखक बैंकबाजार डॉट कॉम के सीईओ हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App