ताज़ा खबर
 

वोडाफोन आइडिया को 73,878 करोड़ रुपये का घाटा, बनी सबसे ज्यादा लॉस उठाने वाली भारतीय कंपनी, 11 करोड़ से ज्यादा ग्राहक भी खोए

न्यायालय ने आदेश दिया था कि सांविधिक बकाए की गणना में गैर-दूरसंचार आय को भी शामिल किया जाएगा, जिसके बाद कंपनी को 51,400 करोड़ रुपये चुकाने हैं। कंपनी ने कहा कि इस देनदारी के कारण कंपनी का कामकाम जारी रहने को लेकर भी गंभीर संदेह पैदा हुआ है।

vodafone ideaवोडाफोन आइडिया ने बनाया घाटे का रिकॉर्ड

देश की तीसरी सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी वोडाफोन इंडिया ने एक ऐसा रिकॉर्ड बनाया है, जिसे शायद ही कोई कंपनी अपने नाम करना चाहेगी। कंपनी को फाइनेंशियल ईयर 2019-20 में 73,878 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है। सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के मुताबिक सरकार के बकाये का प्रावधान किए जाने से कंपनी का घाटा इस स्तर तक पहुंचा है। न्यायालय ने आदेश दिया था कि सांविधिक बकाए की गणना में गैर-दूरसंचार आय को भी शामिल किया जाएगा, जिसके बाद कंपनी को 51,400 करोड़ रुपये चुकाने हैं। कंपनी ने कहा कि इस देनदारी के कारण कंपनी का कामकाम जारी रहने को लेकर भी गंभीर संदेह पैदा हुआ है। भारतीय कंपनी आइडिया के विलय के बाद नए स्वरूप में आए वोडाफोन इंडिया को लगातार चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है।

जियो के आने के बाद से ही संकट से गुजर रही कंपनी की मुश्किलें सरकारी बकाये को चुकाने के लिए सुप्रीम कोर्ट की ओर से दिए गए आदेश ने भी बढ़ा दी है। वोडाफोन आइडिया की ओर से शेयर मार्केट को दी गई जानकारी में बताया गया है कि मार्च तिमाही में उसे 11,643.5 करोड़ रुपये का लॉस हुआ है, जो बीते साल इसी अवधि में 4,881.9 करोड़ रुपये था।

पूरे साल के आंकड़े की बात करें तो वोडाफोन आइडिया को वित्त वर्ष 2018-19 के दौरान 14,603.9 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था। टेलिकॉम डिपार्टमेंट का कहना है कि वोडाफोन पर 58,254 करोड़ रुपये का एजीआर बकाया है, जबकि कंपनी का कहना है कि 46,000 करोड़ रुपये की रकम बाकी है। अब तक वोडाफोन की ओर से बकाया राशि के तौर पर 6,854.4 करोड़ रुपये की रकम चुकाई गई है।

वोडाफोन आइडिया के संकट को इस बात से भी समझ सकते हैं कि बीते दो साल से भी कम समय में कंपनी को 11.61 करोड़ ग्राहक भी खोने पड़े हैं। फिलहाल कंपनी के 32.5 करोड़ यूजर हैं और जियो, एयरटेल के बाद वह तीसरे स्थान पर है। एक तरफ इस अवधि में वोडाफोन आइडिया लगातार कमजोर होती गई है, जबकि रिलायंस जियो ने अपने यूजर बेस में तेजी से इजाफा किया है। वहीं एयरटेल ने अपनी बाजार हिस्सेदारी को बनाए रखने में कामयाबी हासिल की है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 पेट्रोल-डीजल के बाद अब घरेलू गैस सिलेंडर पर भी मार, लगातार दूसरी बार बढ़े LPG के दाम, जानें अब कहां क्या रेट
2 भारत में TikTok, UC Browser समेत बेहद लोकप्रिय हैं ये 6 चीनी ऐप्स, जानें कुल कमाई व कितने थे यूजर्स
3 एटीएम से कैश निकासी और मिनिमम बैलेंस से जुड़े बैंकों के ये नियम बदले, चूके तो देनी होगी पेनल्टी