ताज़ा खबर
 

वोडाफोन आइडिया को जून तिमाही में 25,460 करोड़ रुपये का नुकसान, एयरटेल भी पस्त, जियो का है जलवा

टेलिकॉम कंपनी वोडाफोन आइडिया का बुरा दौर लगातार जारी है। मौजूदा फाइनेंशियल ईयर की पहली तिमाही में कंपनी का घाटा बढ़कर 25,460 करोड़ रुपये के लेवल पर पहुंच गया है। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में यह 4,874 करोड़ रुपये था।

vodafone lossवोडाफोन आइडिया को हुआ 25,460 करोड़ रुपये का नुकसान

टेलिकॉम कंपनी वोडाफोन आइडिया का बुरा दौर लगातार जारी है। मौजूदा फाइनेंशियल ईयर की पहली तिमाही में कंपनी का घाटा बढ़कर 25,460 करोड़ रुपये के लेवल पर पहुंच गया है। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में यह 4,874 करोड़ रुपये था। बकाये के लिए प्रावधान की वजह से कंपनी का घाटा बढ़ा है। शेयर बाजार को कंपनी ने यह जानकारी दी है। कंपनी ने 19,923.20 करोड़ रुपये के बकाये का प्रावधान किया है। इस राशि में विलय से जुड़ी लागत, लाइसेंस, फीस, एजीआर के तौर पर सरकारी बकाया और वन टाइम स्पेक्ट्रम चार्ज शामिल है। यही नहीं ऑपरेशंस से रेवेन्यू में भी कंपनी को 5.42 पर्सेंट की गिरावट का सामना करना पड़ा है। जून में समाप्त तिमाही में कंपनी को 10,659.30 करोड़ रुपये का राजस्व हासिल हुआ है।

वोडाफोन आइडिया के सीईओ रविंद्र टक्कर ने कहा, ‘वित्त वर्ष 2021 की पहली तिमाही हमारे लिए चुनौतीपूर्ण रही है। स्टोर्स के बंद रहने से रिचार्ज उपलब्ध नहीं कराए जा सके। इसके अलावा लॉकडाउन के संकट से लोग आर्थिक तौर पर प्रभावित थे और उनकी रिचार्च कराने की क्षमता पर इसका असर दिखा है।’ कंपनी के प्रति यूजर औसत रेवेन्यू (ARPU) में भी गिरावट आई है। जून तिमाही में ARPU 114 रुपये ही रहा है, जो मार्च में समाप्त हुई तिमाही में 121 रुपये था। कंपनी पर कुल 1,18,940 करोड़ रुपये बकाया है, जिसमें स्पेक्ट्रम पेमेंट के तौर पर सरकार को बकाया 92,270 करोड़ रुपये की रकम शामिल है।

जियो के मुनाफे में 182 पर्सेंट का इजाफा: एक तरफ वोडाफोन आइडिया और एयरटेल जैसी टेलिकॉम कंपनियां पस्त हैं तो दूसरी तरफ रिलायंस जियो अब लगातार मुनाफे की ओर बढ़ रही है। जून तिमाही में जियो के मुनाफे में 182 पर्सेंट का इजाफा हुआ है। कंपनी को 2,520 करोड़ रुपये का नेट प्रॉफिट हुआ है, पिछले साल की इसी तिमाही में जियो को 891 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था। इससे पहले मार्च तिमाही में जियो का मुनाफा 2,332 करोड़ रुपये रहा था।

एयरटेल को 15,933 करोड़ रुपये का लॉस: वहीं जून तिमाही में एयरटेल को 15,933 करोड़ रुपये का नेट लॉस हुआ है। इसकी एक वजह एडजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू (AGR) के तौर पर सरकारी बकाये का पेमेंट करना भी है। इससे पहले बीते साल भी एयरटेल तो जून तिमाही में 2,866 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 मोराटोरियम के बाद भी लोन की किस्तों पर मिलेगी ऐसे कर्जधारकों को राहत, जानें- क्या होगा तरीका
2 बच्चों को सिर्फ 5 रुपये देते थे मुकेश अंबानी, एक दिन छोटे बेटे अनंत ने कहा- दोस्त कहते हैं अंबानी है या भिखारी
3 बैंकों का निजीकरण: कारोबारी घरानों को लाइसेंस देने के खिलाफ रिजर्व बैंक, नीति आयोग ने दिया था सुझाव
ये पढ़ा क्या?
X