ताज़ा खबर
 

किंगफिशर के ‘सच्चे’ कारोबार का विफल होना ‘बुरा सपना’ बन गया है: विजय माल्या

विजय माल्या ने कहा कि सरकार की विपरीत कर नीतियों और ईंधन की ऊंची लागत की वजह से किंगफिशर एयरलाइन बैठ गई।

Author बेंगलुरु | September 30, 2016 4:31 PM
कर्ज की वजह से किंगफिशर एयरलाइन्स की सेवा बंद है। (फाइल फोटो)

विवादों में घिरे शराब कारोबारी विजय माल्या ने शुक्रवार (29 सितंबर) को कहा कि किंगफिशर एयरलाइंस का कारोबार उनके लिए एक ‘दु:स्वप्न’ बन गया है। उन्होंने कहा कि उनका एयरलाइन का कारोबार एक अच्छा कारोबार था जो विभिन्न कारणों से विफल हुआ और एक सही कारोबार की विफलता दु:स्वप्पन बन गई है। उन्होंने कहा कि सरकार की विपरीत कर नीतियों और ईंधन की ऊंची लागत की वजह से किंगफिशर एयरलाइन बैठ गई। यूनाइटेड ब्रुअरीज होल्डिंग्स लिमिटेड की 100वीं वार्षिक आम सभा में यहां शेयरधारकों से वीडियो संदेश में उन्होंने कहा, ‘कारोबार (किंगफिशर एयरलाइंस) ईंधन की ऊंची कीमतों, सरकार की विपरीत कर नीतियों और हवाई यातायात कारोबार को गति देने वाले कारकों के गड़बड़ होने से विफल हुआ।’

उन्होंने कहा कि किंगफिशर एयरलाइंस एक सही कारोबारी की विफलता थी लेकिन अब यह एक दु:स्वप्न का रूप ले चुकी है। एक समय यह एयरलाइन उड्डयन क्षेत्र की रानी के तौर पर जानी जाती थी। यह भारत में अब तक की सबसे बेहतर सेवा और कनेक्टिविटी प्रदान करने वाली विमान सेवा थी। उन्होंने कहा, ‘बिना किसी कानूनी आधार के मुझ पर किंगफिशर एयरलाइंस के 6,000 करोड़ रुपए चोरी करने का आरोप लगाया गया है।’ उन्होंने शेयरधारकों से कहा कि वह उनके खिलाफ लगे सभी आरोपों को अदालत में चुनौती देंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App