ताज़ा खबर
 

अमेरिकी कॉन्ट्रैक्टर पर 31 लाख डॉलर का जुर्माना, भारतीय कंपनी को किया था आउटसोर्स

अमेरिका के एक कान्ट्रैक्टर पर यहां एक सरकार द्वारा वित्तपोषित परियोजना गैरकानूनी तौर पर भारत के एक सब कान्ट्रैक्टर को सौंपने के संबंध में 31 लाख डालर का भारी-भरकम जुर्माना लगाने का आदेश जारी किया गया है।

Author न्यूयॉर्क | Updated: March 26, 2016 7:53 AM

अमेरिका के एक कान्ट्रैक्टर पर यहां एक सरकार द्वारा वित्तपोषित परियोजना गैरकानूनी तौर पर भारत के एक सब कान्ट्रैक्टर को सौंपने के संबंध में 31 लाख डालर का भारी-भरकम जुर्माना लगाने का आदेश जारी किया गया है।

फोकस्ड टेक्नोलाजीज इमेजिंग सर्विसेज, इसके एकमात्र स्वामी और पूर्व सह-स्वामी जूली बेनवेयर ने स्वीकार किया कि उन्होंने 2008-2009 में मुंबई के एक सब-कान्ट्रैक्टर को काम आउटसोर्स कर कानून का उल्लंघन किया है और एक समझौते के तहत उन्होंने जुर्माना और शुल्क अदा करने पर सहमति जताई।

संबंधित विभागों ने कहा कि भारतीय कंपनी ने जांच में स्वेच्छा से पूरा सहयोग किया और वह इस बात से वाकिफ नहीं थी कि उसे यह काम गैरकानूनी तौर पर सौंपा गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories