ताज़ा खबर
 

Train 18 को हरी झंडी, अब किसी भी दिन हो सकती है लॉन्चिंग

केंद्रीय मंत्री पियूष गोयल ने खुद इस ट्रेन का मुआयना कर चुके हैं। मंजूरी मिलने के बाद अब इसे किसी भी दिन चलाने की घोषणा कर दी जाएगी।

Author January 26, 2019 3:57 PM
ट्रेन 18 का नाम बदलकर किया गया वंदे भारत एक्‍सप्रेस (फोटो सोर्स : PTI)

रेल यात्रियों के लिए खुशखबरी है। लंबे समय से रुकी पड़ी ट्रेन 18 को आखिरकार हरी झंडी मिल गई है। अब इस ट्रेन को किसी भी दिन चलाई जा सकती है। सरकार के विद्युत निरीक्षक से ट्रेन 18 को चलाने की मंजूरी मिल गई है। शुक्रवार को चीफ कमिश्नर रेलवे सेफ्टी ने ट्रेन 18 को गैर राजधानी ट्रैक पर 105 किमी प्रति घंटे और राजधानी ट्रैक्स पर 160 किलोमीटर प्रति घंटे से चलाने की अनुमति दे दी है।

बीते दिनों ही सरकार के विद्युत निरीक्षक ने ट्रेन 18 को चलाने की मंजूरी दी थी। मंजूरी को खास सुरक्षा शर्तों पर ही चलाने की मंजूरी मिली थी। इन शर्तों को मियाद तीन महीने रखी गई थी। अगर समय पूरा हो जाता तो नहीं तो मंजूरी को रद्द कर दिया जाता। लेकिन शुक्रवार को प्रिंसिपल चीफ इलेक्ट्रिकल इंजिनियर-सरकार के विद्युत निरीक्षक और प्रिंसिपल चीफ मकैनिकल इंजिनियर का साझा साइन किया हुआ पत्र जारी किया गया। जिसमें कहा गया कि, ‘ ट्रेन 18 कमर्शल ऑपरेशन के लिए सेफ और फिट है।’

बता दें कि, बीते दिनों भी इसके चलने की खबर आई थी। हालांकि कुछ कमी के कारण इस ट्रैक पर दौड़ाने से रोक दिया गया था। सेमी बुलेट ट्रेन का दर्जा पाई ट्रेन 18 में खानपान की वस्तुओं को रखने के लिए पर्याप्त जगह न होने की खबर आई थी। इसकी जानकारी ट्रेनों और स्टेशनों पर यात्रियों के खानपान के साथ अन्य सहूलियत देने वाले आईआरसीटीसी की तरफ से दी गई थी।

केंद्रीय मंत्री पियूष गोयल ने खुद इस ट्रेन का मुआयना कर चुके हैं। मंजूरी मिलने के बाद अब इसे किसी भी दिन चलाने की घोषणा कर दी जाएगी। यह सबसे तेज स्पीड से चलने वाली ट्रेन बताई जा रही है। दिल्ली से वाराणसी से तक सफर अब केवल 8 घंटे में पूरा होगा। अब तक इस सफर के लिए आम जनता को करीब 18 घंटे का समय लगता था। रेलवे सूत्रों के मुताबिक इसका बेस किराया शताब्दी से महंगा हो सकता है। वर्तमान में जो भी ट्रेन दिल्ली से वाराणसी से बीच चलाई जाती है। वे ट्रेन करीब इस दूरी को 11 घंटे 40 मिनट के अंदर पूरा करती हैं। जबकि यह ट्रेन केवल 8 घंटे में यात्रियों को गंतव्य स्थान तक पहुंचाएगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App