ताज़ा खबर
 

डब्ल्यूएचओ बैठक में अपनी बात रखना चाहता है तंबाकू संगठन, मोदी को लिखा पत्र

पत्र में कहा गया है कि सरकार पर संभवत: डब्ल्यूएचओ एफसीटीसी में कुछ कड़े नीतियों पर विचार करने और उन्हें अपनाने का दबाव पड़ सकता है।

Author नई दिल्ली | September 26, 2016 6:53 PM
एक तंबाकू खुदरा विक्रेता। (फाइल फोटो)

छोटे तंबाकू खुदरा विक्रेताओं के संगठन अखिल भारतीय पान विक्रेता संघ (एबीपीवीएस) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर तंबाकू नियंत्रण पर विश्व स्वास्थ्य संगठन रूपरेखा संधि (एफसीटीसी) में उसे प्रतिनिधित्व दिए जाने की अपील की है। यह बैठक दिल्ली में नवंबर में होनी है। संगठन ने बयान में कहा, ‘पश्चिमी देशों की बहुराष्ट्रीय कंपनियों के प्रभाव में कई एनजीओ डब्ल्यूएचओ पर सम्मेलन में ऐसे प्रस्तावों को स्वीकार करने के लिए दबाव बना रहे हैं जिससे देश के लाखों छोटे तंबाकू विक्रेता बुरी तरह प्रभावित होंगे। ये एनजीओ सुपरमार्केट्स और मेगा मार्र्केट्स के हितों को आगे बढ़ा रहे हैं।’

पत्र में कहा गया है कि सरकार पर संभवत: डब्ल्यूएचओ एफसीटीसी में कुछ कड़े नीतियों पर विचार करने और उन्हें अपनाने का दबाव पड़ सकता है। इससे बचाव के लिए एसोसिएशन ने स्वास्थ्य मंत्रालय से डब्ल्यूएचओ एफसीटीसी में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले दल में उनके प्रतिनिधित्व की अनुमति देने की मांग की है, जिससे वे अपनी बात रख सकें। यह अपील केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री, वाणिज्य मंत्री, श्रम मंत्री और वित्त मंत्री से की गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App