ताज़ा खबर
 

मुकेश अंबानी के रिलायंस से टक्कर के लिए टाटा से हाथ मिलाने की तैयारी में वॉलमार्ट, करेगा 1.80 लाख करोड़ रुपये का निवेश

टाटा समूह ई-कॉमर्स बिजनेस के लिए सुपर ऐप लॉन्च करने की तैयारी में है, जिसमें वॉलमार्ट निवेश करने वाला है। दोनों कंपनियों के बीच निवेश को लेकर बातचीत अंतिम राउंड में है।

Edited By यतेंद्र पूनिया नई दिल्ली | Updated: September 29, 2020 1:59 PM
रिटेल सेक्टर में मुकेश अंबानी को टक्कर देने के लिए टाटा से हाथ मिलाएगा वॉलमार्ट

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने भले ही बीते कुछ दिनों में रिटेल सेक्टर को लेकर बड़ा प्लान तैयार किया है, लेकिन अब वॉलमार्ट ने उसे टक्कर देने के लिए नई रणनीति अपनाई है। Live Mint की रिपोर्ट के मुताबिक कंपनी की ओर से देश के दिग्गज कारोबारी समूह टाटा ग्रुप के रिटेल बिजनेस में 25 अरब डॉलर यानी 1.80 लाख करोड़ रुपये का निवेश किया जा सकता है। दरअसल टाटा समूह ई-कॉमर्स बिजनेस के लिए सुपर ऐप लॉन्च करने की तैयारी में है, जिसमें वॉलमार्ट निवेश करने वाला है। दोनों कंपनियों के बीच निवेश को लेकर बातचीत अंतिम राउंड में है। ‘Super App’ को टाटा और वॉलमार्ट के ज्वाइंट वेंचर के रूप में लांच किया जाएगा, जिससे टाटा के ई-कॉमर्स बिज़नेस और वालमार्ट के ई-कॉमर्स बिज़नेस फ्लिपकार्ट में तालमेल बिठाया जा सके।

इसके अलावा ब्लूमबर्ग ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि टाटा अपने नए डिजिटल प्लेटफार्म में निवेश के संभावित निवेशकों से बातचीत कर रहा है। मिंट की रिपोर्ट के मुताबिक वॉलमार्ट 20 से 25 बिलियन डॉलर के निवेश से प्रपोज्ड सुपर ऐप में बड़ी हिस्सेदारी खरीद सकता है जिसे टाटा ग्रुप की टाटा संस यूनिट संभालेगी।

सुपर ऐप को दिसंबर या जनवरी में लांच करने की तैयारी की जा रही है। यह ऐप टाटा के कंज्यूमर बिजनेस को एक जगह ले आएगी, जिससे रिटेल में बड़ी संख्या में उत्पाद एक जगह उपलब्ध हो सकेंगे। रिपोर्ट में कहा गया है टाटा के साथ संभावित डील के लिए वॉलमार्ट ने बैंकर के लिए Goldman Sachs को हायर किया है। इसी महीने टाटा कंसलटेंसी सर्विस की मार्केट कैपिटलाइजेशन वैल्यू के 9 लाख करोड़ रूपए पर पहुंचने के बाद टीसीएस, टाटा मोटर्स और टाटा स्टील के शेयर में 1 फीसदी से ज्यादा का उछाल देखने को मिला है।

यह डील ऐसे समय में हो रही है, जब कुछ महीने पहले ही मुकेश अंबानी ने जियो प्लेटफार्म के शेयर फेसबुक, गूगल, सिल्वरलेक, केकेआर जैसी बड़ी कंपनियों को बेचकर 20 बिलियन डॉलर जुटाए हैं। पिछले महीने किशोर बियानी के फ्यूचर रिटेल का अधिग्रहण कर मुकेश अंबानी की रिलायंस रिटेल देश की सबसे बड़ी रिटेल कंपनी बन गई है। अब बिग बाजार, ईजी-डे नामी ब्रांड्स तक रिलायंस रिटेल की पहुंच हो गई है। इसी वजह से रिटेल बिजनेस में मुकेश अंबानी को कड़ी टक्कर देने के लिए वॉलमार्ट टाटा ग्रुप से हाथ मिला रहा है।

Next Stories
1 पीएम किसान योजना में फ्रॉड रोकने के लिए केंद्र ने राज्य सरकारों को दिया यह आदेश, जानें- कैसे पकड़े जाएंगे धोखेबाज
2 सिर्फ 18 महीने में अनंत अंबानी ने घटाया था 108 किलो वजन, हर दिन करते थे 6 घंटे मेहनत, बेहद कड़ा था डाइट प्लान
3 चीन के खिलाफ माहौल के बाद भी भारत में 1,000 करोड़ लगाने जा रही एमजी मोटर्स, जानें- आखिर क्या है प्लान
ये पढ़ा क्या?
X