ताज़ा खबर
 

भारत में TikTok, UC Browser समेत बेहद लोकप्रिय हैं ये 6 चीनी ऐप्स, जानें कुल कमाई व कितने थे यूजर्स

टिकटॉक की बात करें तो भारत उसके लिए सबसे बड़ा मार्केट हैं, जिसके देश में कुल 611 मिलियन डाउनलोड हैं। इसके बाद चीन और अमेरिका का नंबर आता है। हालांकि इसके बाद भी रेवेन्यू जनरेट करने के मामले में बाइटडांस बहुत आगे नहीं है।

china appsजानें, किस चीनी ऐप के भारत में हैं कितने यूजर और कितनी कमाई

प्रणव मुकुल, आशीष आर्यन 

केंद्र सरकार की ओर से चीन के 59 ऐप्स पर बैन लगाने के बाद से ही तकनीकी जगत में हलचल देखने को मिल रही है। एक तरफ चीन ने भारत से अंतरराष्ट्रीय निवेशकों के हितों को सुरक्षित रखने को कहा है तो दूसरी तरफ कंपनियों का कहना है कि वे भारत सरकार से अपना पक्ष रखेंगी और बताएंगी कि वे देश की सुरक्षा के लिए खतरा नहीं हैं। सरकार ने जिन ऐप्स पर बैन लगाया है, उनमें से कई ऐसे भी हैं, जिनके यूजर्स की संख्या करोड़ों में है और वे सालों से भारत में कारोबार कर रही हैं। आइए जानते हैं, चीन के किस ऐप की भारत में है क्या मौजूदगी…

भारत में हैं टिकटॉक के सबसे ज्यादा यूजर: ये दोनों ही ऐप Bytedance नाम की कंपनी के हैं। दोनों के मिलाकर भारत में 170 मिलियन यानी 17 करोड़ ऐक्टिव यूजर हैं। टिकटॉक की बात करें तो भारत उसके लिए सबसे बड़ा मार्केट हैं, जिसके देश में कुल 611 मिलियन डाउनलोड हैं। इसके बाद चीन और अमेरिका का नंबर आता है। हालांकि इसके बाद भी रेवेन्यू जनरेट करने के मामले में बाइटडांस बहुत आगे नहीं है। 2018-19 ऐसा साल था, जब पूरे वर्ष कंपनी ने भारत में बिजनेस किया था और कंपनी को 43.6 करोड़ रुपये का ही रेवेन्यू हासिल हुआ था। इसके बाद कंपनी ने अगले वर्ष के लिए 100 करोड़ रुपये के रेवेन्यू का टारगेट तय किया था। इस कंपनी के भारत के कुल 8 शहरों में ऑफिस हैं और कम से कम 1,000 कर्मचारी हैं। यही नहीं भारत में काम करने वाली कंपनी Bytedance India चीनी फर्म के अंतर्गत नहीं है। इस कंपनी का मालिकाना हक TikTok Pte Ltd के पास है, जो सिंगापुर रजिस्टर्ड में है।

यूसी ब्राउजर और यूसी न्यूज: जैक मा के नेतृत्व वाले अलीबाबा ग्रुप के ऐप यूसी ब्राउजर और यूसी न्यूज के भारत में 130 मिलियन ऐक्टिव यूजर हैं। गूगल क्रोम के बाद यूपी ब्राउजर भारत में दूसरा ऐसा इंटरनेट ब्राउजर है, जिसका सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जा रहा है। यूसी ब्राउजर का मार्केट शेयर 22 पर्सेंट है, जबकि गूगल क्रोम की हिस्सेदारी 70 फीसदी है। UCWeb Mobile Pvt Ltd के तहत ये दोनों संचालित होते हैं। कंपनी के भारत में लगभग 100 कर्मचारी हैं और 2018-19 में उसे 226.68 करोड़ रुपये का राजस्व हासिल हुआ था।

ShareIt के यूजर 40 करोड़, रेवेन्यू मामूली: ऑनलाइन फाइल शेयरिंग के लिए इस ऐप का इस्तेमाल काफी लोकप्रिय है। भारत में इस ऐप के 400 मिलियन ऐक्टिव यूजर हैं। दुनिया भर में इस ऐप के 1.8 अरब यूजर हैं। हालांकि यह कंपनी इस लोकप्रियता को आर्थिक तौर पर भुनाने में ज्यादा कामयाब नहीं रही है। 2018-19 में कंपनी को भारत से 14.73 करोड़ रुपये की आय हुई थी। रेवेन्यू के लिहाज से बात करें तो कंपनी की वैश्विक कमाई में 15 से 20 फीसदी की हिस्सेदारी ही भारत की है। भारत में ShareIt का मालिकाना हक हॉन्गकॉन्ग में रजिस्टर्ड हुई कंपनी ShareIt Technology India Pvt Ltd के पास है, जिसकी इस कंपनी में 99.99 पर्सेंट की हिस्सेदारी है।

Club Factory है तीसरा सबसे बड़ा ऑनलाइन शॉपिंग प्लेटफॉर्म: भारत की तीसरी सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी होने का दावा करने वाले Club Factory ने अपने प्लेटफॉर्म पर 30,000 सेलर्स को जोड़ा है। कंपनी की भारतीय इकाई GlobeMax Commerce India Pvt Ltd में हॉन्गकॉन्ग स्थित Unbeaten Price Ltd कंपनी की 99.99% फीसदी हिस्सेदारी है। भारत से इस कंपनी ने 2018-19 में 172.14 करोड़ रुपये का राजस्व हासिल किया था और उसके पेरोल पर भारत में 90 कर्मचारी हैं।

Shein भी है पॉप्युलर: यह भी एक ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म है, जो फैशन और लाइफस्टाइल प्रोडक्ट्स की बिक्री करता है। भारत में इसका मालिकाना हक XIYIN India Pvt Ltd के पास है, जो गुड़गांव से संचालित है। भारत में दूसरी और तीसरी श्रेणी के शहरों को टारगेट करने वाली इस कंपनी के भारत में 50 कर्मचारी हैं। भारत में कंपनी के 10 लाख ऐक्टिव यूजर हैं, लेकिन बीते साल इंपोर्ट ड्यूटी के नियमों का उल्लंघन किए जाने पर हुई कार्रवाई के बाद कंपनी ने अपने काम को आंशिक रूप से बंद कर दिया था।

CamScanner के भारत में 100 मिलियन यूजर: यह शंघाई में रजिस्टर्ड INTSIG Information Co Ltd के अंतर्गत चलता है। भारत में इस कंपनी ने अपनी किसी भी यूनिट का रजिस्ट्रेशन नहीं कराया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 एटीएम से कैश निकासी और मिनिमम बैलेंस से जुड़े बैंकों के ये नियम बदले, चूके तो देनी होगी पेनल्टी
2 बिकने के कगार पर देश की सबसे पुरानी साइकल कंपनी एटलस, हीरो साइकल्स ने दिखाई दिलचस्पी
3 देश के 80 करोड़ गरीबों को नवंबर तक मिलेगा मुफ्त अनाज, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना को बढ़ाने का ऐलान