Tata Projects को मिला है संसद भवन बनाने का ठेका, जानिए कंपनी की प्रॉफिट और कमाई के बारे में

नए संसद भवन का निर्माण टाटा प्रोजेक्ट्स लिमिटेड द्वारा किया जाएगा, जो 861 करोड़ रुपये का प्रोजेक्ट है।

Tata Projects, contract, new Parliament building861 करोड़ रुपये का प्रोजेक्ट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को नए संसद भवन की आधारशिला रखी। नए संसद भवन का निर्माण टाटा प्रोजेक्ट्स लिमिटेड द्वारा किया जाएगा। आइए जानते हैं टाटा प्रोजेक्ट्स लिमिटेड की आर्थिक स्थिति के बारे में।

टाटा प्रोजेक्ट्स ने वित्त वर्ष 2019-20 के नतीजे जारी करते हुए बताया था कि कंपनी को 749 करोड़ रुपये का नेट प्रॉफिट हुआ है। हालांकि, एक साल पहले की तुलना में 26 करोड़ रुपये की कमी आई है। वहीं, अगर बात करें तो कंपनी के रेवेन्यू की तो 10,514 करोड़ रुपये की रही, जो एक साल पहले की तुलना में लगभग 2 हजार करोड़ रुपये कम है।

वैश्विक स्तर पर टाटा प्रोजेक्ट बांग्लादेश, नेपाल, यूएई, केन्या, इथोपिया, थाइलैंड समेत करीब 10 देशों में सक्रिय है। टाटा प्रोजेक्ट के चेयरमैन बनमाली अग्रवाल हैं। वहीं, एमडी विनायक पांडे हैं।

861 करोड़ रुपये का प्रोजेक्ट: केंद्र सरकार के इस प्रोजेक्ट के लिए शुरुआत में सात कंपनियों ने ठेके को हासिल करने के लिए बोली लगाई थी। वहीं, आखिरी चरण में तीन कंपनियों को चुना गया। इन कंपनियों में एलएंडटी, टाटा प्रोजेक्ट़स और शापूरजी पालोनजी एंड कंपनी शामिल थीं। हालांकि सबसे कम बोली टाटा प्रोजेक्ट्स (861 करोड़ रुपये ) ने लगाई थी।

नया संसद भवन केंद्र सरकार की योजना सेंट्रल विस्टा के तहत बनाया जाएगा। इसके तहत संसद भवन के निर्माण के अलावा प्रधानमंत्री कार्यालय, राष्ट्रपति भवन और आसपास के इलाकों का नवीनीकरण किया जाएगा। नए संसद भवन का डिजाइन HCP Design, योजना और प्रबंधन प्राइवेट लिमिटेड द्वारा तैयार किया गया है। प्रस्ताव के मुताबिक, नया संसद भवन 64500 स्क्वायर मीटर में बनाया जाएगा। अनुमान के मुताबिक इस संसद भवन को 2022 तक तैयार किया जाएगा।

Next Stories
1 PF अकाउंट पर मिलती है 7 लाख रुपये की बीमा, समझें कैसे होता है कैल्कुलेशन
2 Scorpio ने बदली आनंद महिंद्रा की किस्मत, हॉवर्ड यूनिवर्सिटी ने केस स्टडी में किया था शामिल
3 बिटिया की तकदीर बदलने वाली स्कीम है सुकन्या समृद्धि, बंद अकाउंट को दोबारा चालू करने का ये है तरीका
यह पढ़ा क्या?
X