ताज़ा खबर
 

Airtel ने जुटाए 9 हजार करोड़ रुपये, मुकेश अंबानी के Jio के लिए एक और टेंशन!

हाल ही में भारती एयरटेल, रिलायंस जियो और वोडाफोन आइडिया ने 3.92 लाख करोड़ रुपये की स्पेक्ट्रम नीलामी में भाग लेने को लेकर आवेदन दिये।

Airtel, reliance jio, 5Gएयरटेल ने बाजार से करीब 9,100 करोड़ रुपये का कर्ज जुटाये हैं।(Photo-indian express)

निजी क्षेत्र की टेलीकॉम कंपनी एयरटेल ने बीते कुछ महीनों से रिलायंस जियो के लिए मुश्किलें पैदा कर दी हैं। अब एयरटेल ने एक और अहम ऐलान किया है।

9100 करोड़ रुपये जुटाए: एयरटेल ने बाजार से 1.25 अरब डॉलर (करीब 9,100 करोड़ रुपये) का कर्ज जुटाये हैं। कंपनी की ओर से यह कोष ऐसे समय जुटाया गया है जब सरकार की ओर से 3.92 लाख करोड़ रुपये के स्पेक्ट्रम की नीलामी शुरू होने को है। एयरटेल ने एक वक्तव्य में कहा है, ‘‘जनवरी 2019 के बाद से किसी भी भारतीय निवेश ग्रेड वाली इश्यूकर्ता द्वारा किया गया यह सबसे बड़ा रिण पत्र इश्यू रहा है।’’

नीलामी 1 मार्च से शुरू: बता दें कि हाल ही में भारती एयरटेल, रिलायंस जियो और वोडाफोन आइडिया ने 3.92 लाख करोड़ रुपये की स्पेक्ट्रम नीलामी में भाग लेने को लेकर आवेदन दिये। नीलामी एक मार्च से शुरू होनी है। यह नीलामी 2,251.25 मेगाहट्र्ज के लिये सात फ्रीक्वेंसी बैंड…700 मेगाहट्र्ज, 800 मेगाहट्र्ज, 900 मेगाहट्र्ज, 1800 मेगाहट्र्ज, 2100 मेगाहट्र्ज, 2300 मेगाहट्र्ज और 2500 मेगाहट्र्ज में होंगी। इसके लिये सम्मिलित कुल न्यूनतम मूल्य 3.92 लाख रुपये है।

जियो के लिए टेंशन: हाल ही में एयरटेल और चिप बनाने वाली अमेरिकी कंपनी क्वॉलकम ने भारत में 5G उपलब्ध कराने में तेजी लाने के लिए समझौते का ऐलान किया है। बता दें कि पिछले 5 महीने से जियो के मुकाबले एयरटेल के सब्सक्राइबर्स तेजी से बढ़ रहे हैं।

TRAI के मुताबिक, दिसंबर में एयरटेल के नेटवर्क पर 40 लाख से ज्यादा वायरलेस सब्सक्राइबर्स जुड़े। वहीं जियो की बात करें तो इसके नेटवर्क पर जुड़ने वाले वायरलेस सब्सक्राइबर्स की संख्या 4.7 लाख रही।

Next Stories
1 किसानों की इनकम बढ़ाने के लिए मोदी सरकार का नया प्लान, बांस की खेती पर होगा फोकस
2 समझिए उपकर और सरचार्ज में क्या है अंतर
3 ‘कार्यकारी’ एमबीए से बढ़ेंगे नौकरी के मौके
कोरोना LIVE:
X