ताज़ा खबर
 

जेल में पुराने ठिकाने पर लौटे सुब्रत राय

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट की दी गई राहत की अवधि खत्म होने के बाद सहारा प्रमुख सुब्रत राय को बुधवार को तिहाड़ जेल में वातानुकूलित कक्ष से वापस उनके सेल में भेज दिया गया। विदेशों में स्थित सहारा समूह के लग्जरी होटलों की बिक्री संबंधी सौदे करने के लिए सुब्रत को जेल परिसर में वातानुकूलित […]

October 2, 2014 8:51 AM

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट की दी गई राहत की अवधि खत्म होने के बाद सहारा प्रमुख सुब्रत राय को बुधवार को तिहाड़ जेल में वातानुकूलित कक्ष से वापस उनके सेल में भेज दिया गया। विदेशों में स्थित सहारा समूह के लग्जरी होटलों की बिक्री संबंधी सौदे करने के लिए सुब्रत को जेल परिसर में वातानुकूलित सेल में स्थानांतरित किया गया था।

सुप्रीम कोर्ट ने सुब्रत राय को अपनी जमानत हासिल करने के लिए सेबी के पास जमा कराई जाने वाली दस हजार करोड़ रुपए की राशि उगाहने के मकसद से आठ सितंबर को 15 दिनों तक तिहाड़ जेल के कांफ्रेंस रूम में रहने की अवधि को बढ़ा दिया था। तिहाड़ जेल के डीआइजी मुकेश प्रसाद ने कहा-हमें अदालत की ओर से अवधि बढ़ाने के लिए कोई आदेश नहीं मिला है। जिस अवधि तक सुब्रत राय को विशेष सुविधाओं के साथ कांफ्रेंस रूम में रहने की इजाजत दी गई थी वह मंगलवार को खत्म हो गई। उन्हें बुधवार को जेल में वापस भेज दिया गया। वे यहां केंद्रीय कारागार में जेल नंबर एक में रहेंगे।

प्रसाद ने बताया कि जेल में वापस भेजे जाने की कार्रवाई सुबह करीब 11 बजे हुई। उन्होंने कहा-उनके दोनों निदेशक और राय एक साथ केंद्रीय कारागार में रहेंगे और अब उन्हें कोई विशेष सुविधा नहीं मिलेगी। इस मामले में अदालत की ओर से आगे के लिए दिशा-निर्देशों का इंतजार है। सुप्रीम कोर्ट ने एक अगस्त को राय और उनके समूह के दो निदेशकों को तिहाड़ जेल परिसर में पांच अगस्त से दस दिनों के लिए सुबह छह बजे से लेकर रात आठ बजे तक एअर कंडीशंड कांफ्रेंस रूम का इस्तेमाल करने की इजाजत दी थी। समूह की बैठकें सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में हुई।

65 वर्षीय राय वाईफाई और वीडियो कांफ्रेंसिंग जैसी सुविधाओं का कांफ्रेंस रूम में इस्तेमाल कर रहे थे। उन्हें दो लैपटाप, दो डेस्कटाप, एसटीडी आइएसडी सुविधाओं युक्त लैंडलाइन फोन और एक मोबाइल फोन इस्तेमाल करने की इजाजत थी। दो सचिव और एक तकनीकी व्यक्ति को उनकी मदद करने की इजाजत दी गई थी। राय इस साल चार मार्च से तिहाड़ जेल में हैं।

Next Stories
1 सेंसेक्स 62 अंक कमजोर
2 त्योहारी मांग और कमजोर रुपए के कारण सोने में तेजी
3 मारूति सुजुकी इंडिया की सितंबर बिक्री 4.6 फीसद बढ़ी
यह पढ़ा क्या?
X